Delhi News: त्यागराज स्टेडियम में ‘बाल अधिकार सप्ताह’ के तहत भव्य कार्यक्रम का आयोजन, कई बड़े कलाकारों ने लिया हिस्सा

कार्यक्रम के दौरान अन्य अधिकारियों ने कहा कि स्पोर्ट्स की पावर क्या होती है, आज हम यही दिखाने के लिए यहां इकट्ठे हुए हैं। हर बच्चे में छमता है कुछ कर दिखाने की।

0
40
Delhi News
Delhi News

Delhi News: बाल अधिकार सप्ताह को लेकर देशभर में कई तरह के कार्यक्रमों का आयोजन किया जा रहा है। बाल दिवस (14 नवंबर) से लेकर विश्व बाल दिवस (20 नवंबर) तक ‘बाल अधिकार सप्ताह’ मनाया जा रहा है। इसी क्रम में दिल्ली के त्यागराज स्टेडियम में भी एक कार्यक्रम का आयोजन किया गया। जहां कई बड़े कलाकारों ने हिस्सा लिया और बच्चों का मनोबल बढ़ाया। इतना ही नहीं, इन कलाकारों ने बच्चों के साथ फुटबॉल मैच भी खेला। कार्यक्रम में भारत में यूनिसेफ प्रतिनिधि के तौर पर कार्यरत मेककेफरी समेत कई बड़े पदाधिकारी, क्रिकेट के भगवान कहे जाने वाले सचिन तेंदुलकर (Sachin Tendulkar), एक्टर और सिंगर आयुष्मान खुराना, ग्रैमी अवॉर्ड 2022 के विजेता रिकी केज समेत 9 राज्यों के बच्चों ने हिस्सा लिया।

Delhi News: खेल और समावेश है बाल दिवस का विषय

बता दें कि इस वर्ष बाल दिवस का विषय, खेल और समावेश है। कार्यक्रम में बच्चों के साथ आयुष्मान खुराना और सचिन तेंदुलकर फुटबॉल खेलते हुए नजर आए। आगामी 20 नवंबर को विश्व बाल दिवस के उपलक्ष्य में एक सप्ताह तक जगह जगह ऐसे कार्यक्रमों का आयोजन किया जा रहा है। कार्यक्रम का मकसद बच्चों को उनका अधिकार दिलाना है। विभिन्न खेलों में समानता और गैर-भेदभाव को बढ़ावा देने के लिए लोगों को जागरूक किया जा रहा है। इस आयोजन का उद्देश्य बच्चों को उनके बाल अधिकारों के प्रति भी जागरूक कराना है।

download 64
Delhi News

यूनिसेफ प्रतिनिधि ने क्या कहा?

भारत में यूनिसेफ प्रतिनिधि के तौर कार्यरत मेककेफरी ने कहा कि बच्चों की बेहतर शिक्षा, स्वास्थ्य और भविष्य के लिए हर साल दुनिया के तमाम देशों में विश्व बाल दिवस मनाया जाता है। कई ऐसे अंतर्राष्ट्रीय संगठन है जो बच्चों के अधिकारों के लिए कार्य कर रहे हैं। यूनाइटेड नेशंस इंटरनेशनल चिल्ड्रन इमरजेंसी फंड (यूनिसेफ) भी बाल विकास और कल्याण की दिशा में कार्य कर रहा है। पूरे भारत में प्रत्येक बच्चे के अधिकारों के विकास के लिए हम काम कर रहे हैं। उन्हें आगे बढ़ने के लिए मजबूती प्रदान करने के लिए सरकार भी कई तरह के कदम उठा रही है।

download 65
सचिन और आयुष्मान भी रहे मौजूद

‘हर बच्चे में कुछ कर दिखाने की छमता’

कार्यक्रम के दौरान अन्य अधिकारियों ने कहा कि स्पोर्ट्स की पावर क्या होती है, आज हम यही दिखाने के लिए यहां इकट्ठे हुए हैं। हर बच्चे में छमता है कुछ कर दिखाने की। बच्चों के भविष्य के लिए ये जरूरी है कि हम ऐसा इको सिस्टम बनाए, जहां हर बच्चा अपना पूरा दायित्व निभाए। बच्चों को हर जरूरी चीजें उपलब्ध हों और सरकार इसमें हमारी हर संभव सहायता करे, इसके लिए आज हम यहां इकट्ठे हुए हैं। बच्चे हमारा आने वाला भविष्य है, हम बच्चों की आंखों से दुनिया देखते हैं। उन्होंने कहा कि खेल बच्चों के मेंटल हेल्थ, शांति, उन्हें सभी के समान बनाने में सहायता करता है। बच्चों के भविष्य को निखारने के लिए खेल अहम योगदान निभाता है।

यह भी पढ़ें:

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here