Pakistan New PM: पीएम की कुर्सी पर फिर शहबाज शरीफ का कब्जा, PTI के उमर अयूब खान को दोगुने से अधिक वोटों से हराया

0
12

Pakistan New PM : पाकिस्तान में एक बार फिर पाकिस्तान मुस्लिम लीग (एन) के नेता शहबाज शरीफ प्रधानमंत्री बन गए हैं। आज यानी रविवार (3 मार्च 2024) को पाकिस्तान की संसद में शहबाज को वोटिंग के जरिए पीएम चुन लिया गया। बता दें कि जहां पाकिस्तान मुस्लिम लीग (एन) यानी PML-N पार्टी की ओर से शहबाज पीएम पद के उम्मीदवार थे। वहीं, शहबाज के सामने पाकिस्तान तहरीक-ए-इंसाफ़ (पीटीआई) के नेता उमर अयूब खान ने पीएम पद के लिए नामांकन भरा था। नतीजों का जैसे अनुमान लगाया जा रह था वैसा ही हुआ और शहबाज शरीफ ने दोगुने से अधिक वोटों से अपने प्रतिद्वंदी उमर अयूब खान को हरा दिया। बता दें कि पीटीआई पाकिस्तान के पूर्व पीएम इमरान खान की पार्टी है। फिलहाल इमरान खान पाकिस्तान की जेल में बंद हैं।    

शहबाज बनाम उमर की जंग में किसको मिले कितने वोट?

पाकिस्तानी संसद में हुए चुनाव में शहबाज शरीफ को 201 वोट हासिल हुए, जबकि पीटीआई के नेता उमर अयूब खान को केवल 92 वोट मिले। जिसके बाद शहबाज शरीफ को पाकिस्तान का नया प्रधानमंत्री घोषित कर दिया गया। मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक कल यानी सोमवार (4 मार्च, 2024) को शहबाज शरीफ पाकिस्तान के प्रधानमंत्री के रूप में शपथ ग्रहण करेंगे।

पाकिस्तान की गठबंधन वाली सरकार में कौन-कौन सी पार्टियां शामिल?

पाकिस्तान आम चुनावों में किसी भी पार्टी को बहुमत हासिल नहीं हुआ था ऐसे में शहबाज पीपीपी, एमक्यूएम-पी, पीएमएल-क्यू, बीएपी, पीएमएल-जेड, आईपीपी और एनपी सहित पीएमएल-एन के सहयोगियों के समर्थन से प्रधानमंत्री बने। 

पूर्ण बहुमत नहीं होने की स्थिति में पीएमएल-एन ने पीपीपी और एमक्यूएम के साथ शहबाज शरीफ के नेतृत्व में गठबंधन करके सरकार बनाने का फैसला किया था। बता दें, शहबाज ने एक दफा फिर पीपीपी के साथ गठबंधन किया है। इससे पहले, शहबाज ने अपने पिछले कार्यकाल के दौरान, जो कि अप्रैल 2022 से अगस्त 2023 तक चला था, उसमें भी पीपीपी के साथ गठबंधन किया था।  

पाकिस्तान पार्लियामेंट्री चुनाव 2024 में किसके पास कितनी सीटें

मालूम हो कि बीते माह 8 फरवरी, 2024 को पाकिस्तान में पार्लियामेंट्री इलेक्शन हुए थे। इसमें सबसे अधिक सीटें इमरान खान की पार्टी पीटीआई समर्थित निर्दलीय उम्मीदवार 93 सीटों पर विजयी रहे थे। बता दें कि स्वतंत्र उम्मीदवारों ने पीटीआई द्वारा समर्थित 93 सीटों सहित 103 सीटों पर जीत हासिल की, लेकिन बहुमत का आंकड़ा ना छू सकी। दूसरे नंबर पर नवाज शरीफ की पार्टी  पाकिस्तान मुस्लिम लीग (एन) (पीएमएल-एन) रही, जिसने 75 सीटें जीतीं। जबकि बिलावल भुट्टो जरदारी की पाकिस्तान पीपुल्स पार्टी (पीपीपी) को आम चुनावों में 54 सीटें मिलीं। बता दें कि पाकिस्तान में कुल 336 नेशनल असेंबली सीटें हैं। यानी कि वहां बहुमत के लिए 169 सीटों की आवश्यकता होती है।

बता दें कि पाकिस्तान में पीटीआई के प्रधान मंत्री इमरान खान को अविश्वास प्रस्ताव लाकर 2 वर्ष पहले पद से हटा दिया गया था। जिसके बाद, इमरान खान को भ्रष्टाचार के आरोप में दोषी पाया गया था, जिसके लिए उन्हें पांच साल के लिए पाकिस्तान की सक्रिय राजनीति से प्रतिबंधित कर दिया गया था। वहीं चुनावों से पहले, पाकिस्तान सुप्रीम कोर्ट के एक फैसले ने वर्षों तक अंतर-पार्टी चुनाव कराने में असफल रहने के कारण पीटीआई पार्टी से उनका चुनाव चिन्ह छीन लिया था।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here