Viral News : ‘जय श्री राम’ का नारा लगाने पर छात्र को स्टेज से उतारने वाली 2 प्रोफेसर सस्पेंड, वीडियो वायरल होने के बाद लिया गया एक्शन

0
185
Jai Shree Ram slogan chant in Ghaziabad College
Jai Shree Ram slogan chant in Ghaziabad College

UP के गाज़ियाबाद जिले में ‘जय श्री राम’ के नारे लगाने पर छात्र को मंच से उतारने वाली दो महिला प्रोफेसरों को निलंबित कर दिया गया है। मामला एबीईएस इंजीनियरिंग कॉलेज का है, जहां कॉलेज का एक सांस्कृतिक फंक्शन चल रहा था। कॉलेज के ही एक छात्र ने ऑडिटोरियम के मंच पर जाकर ‘जय श्री राम’ बोला था। इसी बात पर वहां पर मौजूद दो महिला प्रोफेसरों ने छात्र को मंच से उतर जाने के लिए कह दिया था। सोशल मीडिया पर इन प्रोफेसरों पर एक्शन की मांग हो रही थी। वीडियो वायरल होने के बाद महिला प्रोफेसरों के खिलाफ ये फैसला लिया गया है।

आखिर क्या है पूरा मामला?

बता दें, हाल ही में सोशल मीडिया पर उत्तर प्रदेश के गाज़ियाबाद में स्थित एबीईएस इंजीनियरिंग कॉलेज के सांस्कृतिक फंक्शन का एक वीडियो वायरल हो गया था। वीडियो में देखा जा सकता है कि एक छात्र को मंच पर अपनी प्रस्तुति देने के लिए बुलाया गया। छात्र जब मंच पर गया तो सामने बैठी ऑडियंस में से कुछ छात्रों ने जय श्री राम बोला जिसके प्रतिउत्तर में वह भी जय श्री राम बोलता है। छात्र के इतना बोलते ही प्रोफेसर उसे टोकती है और मंच से नीचे उतरने के लिए कहती है। छात्र यह कहता हुआ नज़र आ रहा है की उसने सिर्फ ऑडियंस में बैठी जनता के जय श्री राम बोलने पर प्रतिउत्तर दिया है लेकिन प्रोफेसर उसे ऑडिटोरियम से बहार जाने के लिए कह देती है। ऑडिटोरियम में मौजूद लोगों ने इस घटना का वीडियो बनाकर सोशल मीडिया पर डाल दिया था जो वायरल हो गया।

सोशल मीडिया प्लेटफार्म X (पूर्व ट्विटर ) के एक यूजर श्यामजी तिवारी इस घटना का वीडियो शेयर करते हुए लिखते हैं, ” ABES कॉलेज में छात्र ने जय श्रीराम के नारे लगाए तो टीचर ने स्टेज से उतार दिया। अब खबर है कि टीचर को ही सस्पेंड कर दिया गया है।”

मीडिया रिपोर्ट्स के अनुसार, प्रोफेसर ने वीडियो वायरल होने के बाद अपनी सफाई देते हुए कहा था कि कॉलेज के सांस्कृतिक प्रोग्राम में यह सब अलाउड नहीं होता है। वीडियो वायरल होने पर सोशल मीडिया यूजर्स ने प्रोफेसर के खिलाफ एक्शन लेने के लिए गाज़ियाबाद पुलिस को कई बार टैग भी किया था। इसके बाद इस मामले में गाजियाबाद पुलिस कमिश्नरेट का रिप्लाई आया था। पुलिस कमिश्नरेट के ‘एक्स’ (पूर्व ट्विटर ) अकाउंट से किए गए रिप्लाई में लिखा गया था कि पूरे मामले में क्रॉसिंग थाना प्रभारी को जांच करके उचित कार्रवाई करने के निर्देश दिए गए हैं।

यह भी पढ़ें:

How To Check Gold Purity: कितना शुद्ध है आपके घर में रखा सोना-चांदी, इस ऐप से करें चेक

Police Commemoration Day: “मोदी सरकार ने बरकरार रखी आतंकवाद के खिलाफ जीरो टॉलरेंस की नीति”, पुलिस स्मृति दिवस के अवसर पर बोले अमित शाह

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here