गुप्‍त नवरात्रि में दस महाविद्याओं की होगी आराधना, बन रहा सर्वार्थ सिद्धि योग का शुभ संयोग

0
14

साल में 4 नवरात्रि आती हैं। इसमें से 2 गुप्‍त नवरात्रि होती हैं और 2 प्रत्‍यक्ष नवरात्रि होती हैं। माघ महीने की गुप्‍त नवरात्रि 10 फरवरी 2024 से प्रारंभ हो रही हैं। माघ गुप्‍त नवरात्रि माघ महीने के शुक्‍ल पक्ष की प्रतिपदा तिथि से प्रारंभ होती हैं और नवमी तिथि तक चलती हैं। इस साल माघ नवरात्रि 10 फरवरी से 18 फरवरी तक है । ये गुप्‍त नवरात्रि इसलिए भी विशेष हैं क्‍योंकि इनकी शुरुआत में ही सर्वार्थ सिद्धि योग, रवि योग बन रहे हैं। इन योगों में मां दुर्गा की पूजा करना बहुत लाभदायक होता है। इन 9 दिनों में 10 महाविद्याओं की पूजा होती है।

माघ शुक्‍ल प्रतिपदा तिथि

  • 10 फरवरी की सुबह 4 बजकर 28 मिनट से 11 फरवरी की दोपहर 12 बजकर 27 मिनट तक।
  • उदयातिथि के अनुसार 10 फरवरी को माघ शुक्‍ल प्रतिपदा यानी कि गुप्‍त नवरात्रि की शुरुआत मानी जाएगी।
  • घटस्‍थापना के लिए शुभ मुहूर्त 10 फरवरी की सुबह 8:45 बजे से लेकर सुबह 10:10 बजे तक
  • दोपहर को 12:13 बजे से लेकर 12:58 मिनट तक घटस्‍थापना की जा सकती है।

क्‍यों कहा जाता है गुप्‍त नवरात्रि?

गुप्त नवरात्रि में देवी दुर्गा के विभिन्न रूपों की पूजा शक्ति के रूप में की जाती है और इसमें देवी दुर्गा की साधना, अर्चना गुप्‍त रूप से की जाती है। गुप्‍त नवरात्रि में किए जाने वाले अनुष्‍ठान जितने गुप्‍त रूप में किए जाते हैं उससे उतना ही ज्‍यादा फल मिलता है। मान्‍यता है कि गुप्‍त नवरात्रि में की गई साधना से देवी जल्‍दी प्रसन्‍न होती हैं।

देवी दुर्गा को कैसे प्रसन्‍न करें

  • गुप्‍त नवरात्रि में देवी दुर्गा को प्रसन्‍न करने के लिए मंत्र जाप करें।
  • दुर्गा सप्तशती का पाठ करें और माता क नाम का हवन करना काफी फलदायक हो सकता है।
  • 9 दिन में सवा लाख मंत्र जाप का संकल्‍प भी लें सकते हैं।
  • गुप्त नवरात्रों में आप अखंड ज्योति जलाकर भी माता को प्रसन्न कर सकते हैं। अपनी मनोकामनाओं को माता के आशीर्वाद से पूर्ण भी कर सकते हैं।

(Disclaimer: यहां दी गई जानकारी सामान्य मान्यताओं और जानकारियों पर आधारित है। APN NEWS इसकी पुष्टि नहीं करता है। )

यह भी पढ़ें:

इन राशियों के लोग होते हैं सबसे ज्यादा रोमांटिक, जन्मों तक निभाते हैं साथ

Basant Panchami 2024: बसंत पंचमी पर पूरे विधान से करें मां सरस्वती की पूजा, मिलेगा आशीर्वाद, होगी हर मन्नत पूरी

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here