Congress President: अध्यक्ष पद के लिए गहलोत और थरूर ने दिया चुनाव लड़ने का संकेत, जानें क्या है पूरा मामला…

सोनिया गांधी से मुलाकात से पहले मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने कांग्रेस अध्यक्ष पद का चुनाव लड़ने का स्पष्ट संकेत देते हुए कहा कि पार्टी के लोगों का जो फैसला होगा, उसे वे मानेंगे। गहलोत ने संवाददाताओं से कहा कि मुझे पार्टी ने सब कुछ दिया है। आलाकमान ने सब कुछ दिया हैष पिछले 40-50 साल से मैं पदों पर ही हूं।

0
55
अशोक गहलोत और शशि थरूर लड़ सकते हैं 17 अक्टूबर को होने वाला Congress अध्यक्ष पद के लिए चुनाव, जानिए कांग्रेस और भाजपा में कैसे चुना जाता है अध्यक्ष - APN News
Congress President: अध्यक्ष पद के लिए गहलोत और थरूर ने दिया चुनाव लड़ने का संकेत, जानें क्या है पूरा मामला...

Congress President: कांग्रेस अध्यक्ष पद के चुनाव के लिए आज यानी गुरुवार 22 सितंबर को अधिसूचना जारी की जाएगी। इससे एक दिन पहले राजस्थान के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत और पार्टी के वरिष्ठ नेता शशि थरूर ने चुनावी मैदान में उतरने का साफ तौर पर संकेत दे दिया है। संभावना जताई जा रही है कि 22 साल बाद देश की सबसे पुरानी पार्टी का प्रमुख चुनाव के जरिए चुना जाएगा।

दरअसल, अशोक गहलोत ने दो टूक कहा कि वे पार्टी का फैसला मानेंगे। लेकिन, उससे पहले राहुल गांधी को अध्यक्ष बनने के लिए मनाने का एक आखिरी कोशिश जरूर करेंगे। दूसरी ओर पहले से ही चुनाव लड़ने का संकेत दे रहे लोकसभा सदस्य शशि थरूर ने कांग्रेस मुख्यालय में पहुंचकर पार्टी के केंद्रीय चुनाव प्राधिकरण के प्रमुख मधुसूदन मिस्त्री से मुलाकात की। उन्‍होंने नामांकन और चुनाव प्रक्रिया के बारे में पूरी जानकारी ली। कुछ अन्य नेताओं के भी चुनावी मैदान में उतरने की संभावना को खारिज नहीं किया जा सकता है।

Ashok Gehlot
Congress President: गहलोत सीएम और अध्यक्ष पद का मोर्चा साथ संभालेंगे

Congress President: गहलोत सीएम और अध्यक्ष पद का मोर्चा साथ संभालेंगे

अशोक गहलोत ने दिल्ली में भी संकेत दिया कि वे अध्यक्ष और मुख्यमंत्री दोनों की जिम्मेदारी को बखूबी संभाल सकते हैं, हालांकि यह स्पष्ट नहीं हुआ है कि अध्यक्ष बनने की स्थिति में अगर उन्हें मुख्यमंत्री पद से हटना पड़ता है। ऐसे में उनकी जगह यह जिम्मेदारी किसे सौंपी जाएगी? सचिन पायलट मुख्यमंत्री के सबसे ज्यादा करीबी नेताओं में से एक हैं, ऐसे में कयास लगाए जा रहे हैं कि अगले साल होने वाले विधानसभा चुनाव को देखते हुए यह जिम्मेदारी पायलट को सौंपी जानी चाहिए।

गहलोत राहुल गांधी को Congress President पद पर बनने के लिए मनाएंगे

अशोक गहलोत ने बीते बुधवार की शाम कांग्रेस की अंतरिम अध्यक्ष सोनिया गांधी से करीब दो घंटे तक मुलाकात की। हालांकि सूत्रों का कहना है कि उन्होंने पार्टी अध्यक्ष के चुनाव को लेकर विस्तृत चर्चा की और कहा कि वे राहुल गांधी को मनाने की एक बार फिर कोशिश करेंगे। बता दें कि अशोक गहलोत आज यानी गुरुवार को केरल पहुंच रहे हैं, जहां वे राहुल गांधी से मुलाकात कर अध्यक्ष पद का चुनाव लड़ने का आग्रह करेंगे और ‘भारत जोड़ो यात्रा’ में शामिल होंगे।

Ashok Gehlot
Congress President: अशोक गहलोत ने कहा मैं करूंगा नामांकन

Congress President: अशोक गहलोत ने कहा ‘मैं करूंगा नामांकन

सोनिया गांधी से मुलाकात करने से पहले गहलोत ने कांग्रेस अध्यक्ष पद का चुनाव लड़ने का स्पष्ट संकेत देते हुए कहा था कि पार्टी के लोगों का जो फैसला होगा, उसे वे मानेंगे। गहलोत ने कहा कि मुझे पार्टी ने सब कुछ दिया है। पिछले 40-50 साल से मैं पदों पर ही हूं। मेरे लिए अब कोई पद महत्वपूर्ण नहीं है। मेरे लिए यह महत्वपूर्ण है कि जो जिम्मेदारी मुझे मिलेगी या जो जिम्मेदारी मुझे लेनी चाहिए वो मैं निभाऊंगा।

गहलोत ने आगे कहा कि मुझ पर गांधी परिवार का विश्वास तो है साथ ही जितने भी कांग्रेसजन हैं। उन सबके परिवारों का भी विश्वास मेरे ऊपर है। अगर वे मुझे कहेंगे कि नामांकन करना है तो मैं भरूंगा। हमारे जो मित्र लोग हैं उनसे बात करेंगे। उन्होंने कहा कि आज मैं मुख्यमंत्री हूं वो जिम्मेदारी मैं निभा रहा हूं। मुझे कांग्रेस की सेवा करनी है। जहां मेरा उपयोग राजस्थान या दिल्ली में है, जहां भी रहूंगा मैं तैयार रहूंगा। क्योंकि पार्टी ने मुझे सब कुछ दिया है। अब मेरे लिए पद बहुत बड़ी बात नहीं है।

Ashok Gehlot
Ashok Gehlot

अशोक गहलोत ने आगे कहा कि अगर मेरा बस चले तो मैं किसी भी पद पर नहीं रहूं। मैं राहुल गांधी के साथ सड़क पर उतरूं और फासीवादी लोगों के खिलाफ मोर्चा खोलूं। गहलोत ने कहा कि राहुल गांधी कांग्रेस अध्यक्ष के रूप में ‘भारत जोड़ो यात्रा’ करेंगे तो पार्टी के लिए एक अलग माहौल बनेगा।

अध्यक्ष बन जाने की स्थिति में क्या वे मुख्यमंत्री भी बने रहेंगे इस सवाल पर उन्होंने कहा कि यह प्रस्ताव हमने पारित किया है। जहां नामित होते हैं वहां 2 पद होते हैं। यह चुनाव तो सबके लिए है। इसमें कोई भी खड़ा हो सकता है। चाहे वो सांसद है, विधायक है, मंत्री है, मुख्यमंत्री है। कल किसी राज्य का मंत्री कहेगा कि मैं खड़ा होना चाहता हूं तो वह हो सकता है। वह मंत्री भी रह सकता है और कांग्रेस अध्यक्ष भी बन सकता है। उन्होंने कहा कि यह समय बताएगा कि मैं (मुख्यमंत्री) रहूंगा या नहीं। मैं वहां रहना चाहूंगा कि जहां मुझसे पार्टी को फायदा हो। मैं इसमें पीछे नहीं हटूंगा।

ASHOK GEHLOT sachin pilot
सचित पायलट हैं मुख्यमंत्री के बेहद करीब

Congress President: शशि थरूर ने नामांकन की प्रक्रिया की ली जानकारी

कांग्रेस वरिष्ठ नेता शशि थरूर से अध्यक्ष पद के चुनाव को लेकर कहा कि मुकाबला होना चाहिए ताकि लोगों को मालूम पड़े कि पार्टी में आंतरिक लोकतंत्र है। यह आंतरिक लोकतंत्र के लिए अच्छा है। क्या भाजपा में पता चलता है कि राजनाथ सिंह कैसे अध्यक्ष बन गए और जे पी नड्डा कैसे अध्यक्ष बन गए?

संबंधित खबरें…

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here