Crime News: दिल्ली पुलिस और लॉरेंस बिश्नोई गैंग के बीच मुठभेड़, 3 शूटर गिरफ्तार

पुलिस के अनुसार, तीनों पिछले कुछ दिनों से नियमित रूप से 'सिग्नल' ऐप के जरिए कनाडा में रहने वाले गैंगस्टर गोल्डी बरार से सीधे संपर्क कर रहे थे। गोल्डी बराड़ ने उनके लिए हथियारों की व्यवस्था की थी।

0
45
Crime News
Crime News

Crime News: रोहिणी इलाके के सेक्टर 36 में शनिवार को दिल्ली पुलिस की स्पेशल सेल और लॉरेंस बिश्नोई गिरोह के सदस्यों के बीच मुठभेड़ हो गई। दिल्ली पुलिस की स्पेशल सेल को गिरोह के सदस्यों के बारे में सूचना मिली थी, जिसके आधार पर उन्होंने गिरोह के सदस्यों को पकड़ने के लिए शनिवार दोपहर दिल्ली में बरवाला-बवाना रोड के पास जाल बिछाया।

Crime News: पुलिस को लगी गोली

पुलिस के अनुसार गिरफ्तारी के समय आत्मसमर्पण करने की चेतावनी देने के बावजूद हमलावरों ने पिस्टल निकाल कर पुलिस टीम पर तीन से चार राउंड फायरिंग की ताकि मौके से फरार हो सके। पुलिस ने भी जवाबी फायरिंग की। मुठभेड़ के दौरान एक पुलिस अधिकारी को गोली लगी, लेकिन उसने जो बुलेट प्रूफ जैकेट पहनी हुई थी। मुठभेड़ के बाद पुलिस ने मौके से तीन लोगों को गिरफ्तार किया और उनके पास से तीन पिस्टल और 11 कारतूस बरामद किए। तीनों, नवीन, मनोज और करमबीर, हरियाणा के झज्जर के मूल निवासी हैं।

download 83 1
Crime News

गोल्डी बरार से सीधे संपर्क में थे शूटर

पुलिस के अनुसार, तीनों पिछले कुछ दिनों से नियमित रूप से ‘सिग्नल’ ऐप के जरिए कनाडा में रहने वाले गैंगस्टर गोल्डी बरार से सीधे संपर्क कर रहे थे। गोल्डी बराड़ ने उनके लिए हथियारों की व्यवस्था की थी। गिरफ्तार किए गए तीनों जुलाई में गुरुग्राम के झड़सा में एक शराब की दुकान पर सशस्त्र डकैती के मामले में वांछित हैं। गिरफ्तार किए गए तीनों शूटर्स को सिद्धू मूसेवाला हत्याकांड में गिरफ्तार किए गए शूटर्स में से एक प्रियव्रत फौजी ने गोल्डी बरार से मिलवाया था।

यह भी पढ़ें:

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here