Hariyali Teej 2022: हरियाली तीज को ऐसे बनाएं खास, मेहंदी रचे हाथों के साथ उठाएं घेवर का लुत्‍फ

Hariyali Teej 2022: सुहागिन महिलाएं प​ति की लंबी आयु के लिए व्रत रखकर विधिवत पूजा करती हैं। महिलाएं भी इस दिन खूब सजतीं संवरतीं हैं और सहेलियों के साथ झूला भी झूलती हैं।

0
232
Hariyali Teej 2022
Hariyali Teej 2022

Hariyali Teej 2022: सावन के महीने का खास त्‍योहार है हरियाली तीज। तीज का नाम आते दिमाग में पींगे भरते झूले, मेहंदी रचे हाथ और घेवर खाते लोगों के चेहरे आने लगते हैं।हरियाली तीज आते ही सावन की मिठास और खुशियों को दोगुनी हो जाती हैं। हरियाली तीज श्रावण मास के शुक्ल पक्ष की तृतीया तिथि को मनाया जाता है। इस साल हरियाली तीज 31 जुलाई 2022 को मनाया जाएगा। इस दिन देवी गौरा और शिवजी की पूजा का भी बेहद महत्‍व होता है।

सुहागिन महिलाएं प​ति की लंबी आयु के लिए व्रत रखकर विधिवत पूजा करती हैं। महिलाएं भी इस दिन खूब सजतीं संवरतीं हैं और सहेलियों के साथ झूला भी झूलती हैं।कुवांरी कन्या भी मनपसंद वर पाने की इच्छा से इस दिन पूजा एवं व्रत कर महादेव और मां पार्वती को प्रसन्‍न करतीं हैं। इसे कई नामों से पूरे भारत में जाना जाता है। मसलन श्रावणी तीज, कजली तीज आदि।

teej 4
Hariyali Teej 2022.

Hariyali Teej 2022: जानें हरियाली तीज का मुहूर्त

teej 5
Hariyali Teej 2022.

हरियाली तीज सावन माह के शुक्ल पक्ष की तृतीया तिथि 31 जुलाई को सुबह 6 बजकर 32 मिनट से शुरू होगी। महिलाएं 6.32 मिनट से 8.30 मिनट तक पूजा कर सकतीं हैं। प्रदोष काल में पूजा का मुहूर्त शाम 6.33 मिनट से रात 8.50 मिनट तक रहेगा। नवविवाहिताओं की पहली तीज ससुराल में नहीं रखी जाती, बल्कि मायके में रखा जाता है। सुहाग की वस्‍तुएं जैसे हरी चूड़ियां, सिंदूर, सूट, बिंदी, बिछुआ, काजल, घेवर और मिठाई आदि लड़कियों के लिए भेजे जाते हैं।

संबंधित खबरें