20 लाख नौकरी से लेकर 1 ट्रिलियन इकोनॉमी तक….गुजरात के लिए BJP ने जारी किया मेनिफेस्टो

इससे पहले गुजरात की सत्ता को पाने की कोशिश में लगी कांग्रेस (Congress) पार्टी दो हफ्ते पहले ही गुजरात चुनाव के लिए घोषणा पत्र 'जन घोषणा पत्र 2022' जारी कर चुकी है।

0
51
Gujarat Election
Gujarat Election

Gujarat Election: गुजरात विधानसभा चुनाव के पहले चरण की वोटिंग में अब कुछ ही दिन शेष है। सभी राजनीतिक दल मतदाताओं को अपने-अपने पाले में करने की जद्दोजहदत में लगे हुए हैं। पार्टियां गुजरात की जनता से लोकलुभावन वादे कर रही हैं। इस बीच गुजरात विधानसभा चुनाव (Gujarat Assembly Election) को लेकर भारतीय जनता पार्टी (BJP) ने शनिवार (26 नवंबर) को अपना संकल्प पत्र (Maniesto) जारी कर दिया है।

बीजेपी के राष्ट्रीय अध्यक्ष जेपी नड्डा (JP Nadda) ने पार्टी का संकल्प पत्र जारी किया। गांधीनगर में भाजपा अध्यक्ष जेपी नड्डा ने घोषणापत्र जारी किया। बीजेपी ने इस बार 20 लाख नौकरियों का वादा , सरकारी स्कूलों में सुधार का वादा और गुजरात को ट्रिलियन डॉलर की अर्थव्यवस्था बनाने का भी वादा किया है। इससे पहले उन्होंने संविधान दिवस पर देश के संविधान की कॉपी पर पुष्प चढ़ाए। नड्डा ने इस दौरान कहा कि हम संविधान को लेकर समर्पित लोग हैं। जेपी नड्डा ने कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के नेतृत्व में और बीजेपी के शासन में गुजरात का निरंतर विकास हो रहा है।

गुजरात के लिए बीजेपी के वादे

गुजरात में केजी से पीजी तक सभी लड़कियों को मुफ्त शिक्षा।
सार्वजनिक संपत्ति को नुकसान पहुंचाने वालों के खिलाफ कार्रवाई।
20 लाख नौकरियों का वादा
गुजरात को ट्रिलियन डॉलर की अर्थव्यवस्था बनाना।
2036 ओलंपिक खेलों की मेजबानी करने के उद्देश्य से विश्व स्तरीय खेल बुनियादी ढांचा बनाने के लिए ‘गुजरात ओलंपिक मिशन’ शुरू करना।

कांग्रेस ने क्या वादा किया है?

बताते चले कि इससे पहले गुजरात की सत्ता को पाने की कोशिश में लगी कांग्रेस (Congress) पार्टी दो हफ्ते पहले ही गुजरात चुनाव के लिए घोषणा पत्र ‘जन घोषणा पत्र 2022’ जारी कर चुकी है। कांग्रेस पार्टी ने अपने घोषणा पत्र में गुजरात के हर नागरिक के लिए 10 लाख रुपये तक के मुफ्त इलाज समेत 300 यूनिट मुफ्त बिजली का वादा किया है। साथ ही कांग्रेस ने सत्ता में आने पर नरेंद्र मोदी स्टेडियम का नाम बदलकर फिर से सरदार पटेल स्टेडियम करने का वादा किया है। इसके अलावा कांग्रेस ने गुजरात में भी पुरानी पेंशन स्कीम की बहाली, संविदा कर्मचारियों को नियमित करने, स्कूल फीस में 25 फीसदी कटौती करने, बेरोजगारों को 3,000 रुपये महीने बेरोजगारी भत्ता देने का भी वादा किया है।

यह भी पढ़ें: