5G सर्विस पर आईटी मंत्री अश्विनी वैष्णव का बड़ा बयान, बोले- देश में दिसंबर…

टेलीकॉम बिल को संसद के मानसून सत्र में पास करना हमारा अगला लक्ष्य- अश्विनी वैष्णव

0
298
5G Services की जानकारी देते केंद्रीय संचार मंत्री अश्विनी वैष्णव
5G Services की जानकारी देते केंद्रीय संचार मंत्री अश्विनी वैष्णव

5G Services: देश में तेजी से आईटी सेक्टर का विकास देखा जा रहा है। आने वाले समय में टेक्नोलॉजी और भी मजबूती के साथ आगे बढ़ेगी। वहीं, इस आईटी क्षेत्र को बल देने के लिए देश में फास्ट इंटरनेट की भी जरूरत है, जिसको लेकर केंद्र सरकार कई तैयारियां कर रही है। मंगलवार को केंद्रीय संचार मंत्री अश्विनी वैष्णव ने देश में इंटरनेट सुविधा में 5जी सर्विस व टेलीकॉम सेक्टर को लेकर कई बड़ी बातें कही है।

आईटी मंत्री वैष्णव ने कहा कि देश का टेलीकॉम सेक्टर एक सनराइज सेक्टर बनकर उभरा है। इस सेक्टर को जीएसएम में गर्वमेंट लीडरशिप अवॉर्ड भी मिला है। उन्होंने कहा कि जल्द ही देश के 200 शहरों में 5जी की सर्विस उपलब्ध हो जाएगी।

5G Services
5G Services

5G Services: दिसंबर 2024 तक पूरे देश में होगी 5जी सर्विस- आईटी मंत्री

केंद्रीय मंत्री अश्विनी वैष्णव ने देश को जानकारी देते हुए कहा कि जल्द ही देश के 200 शहरों में 5जी की सर्विस काम करने लगेगी। उन्होंने कहा कि इस काम के लिए पहले फेज 1 में 31 मार्च तक 200 शहरों को कवर करने का लक्ष्य था लेकिन आज तक यह सर्विस कुल 386 जिलो तक पहुंच गई है। अश्विनी वैष्णव ने एक खास जानकारी देते हुए कहा “दिसंबर 2024 तक पूरे देश में 5जी की कवरेज पूरी हो जाएगी।” उन्होंने कहा कि ग्लोबल स्पीड टेस्ट में भारत का नबंर तेजी से आगे बढ़ रहा है। मंत्री ने कहा “हम सितंबर में 118वें नंबर पर थे आज 69वें नंबर पर आ गए हैं।”

टेलीकॉम बिल को संसद के मानसून सत्र में पास करना हमारा अगला लक्ष्य- अश्विनी वैष्णव

केंद्रीय संचार मंत्री अश्विनी वैष्णव ने बताया “हमारा अगला मुख्य लक्ष्य टेलीकॉम बिल को संसद के मानसून सत्र में पास कराना होगा। इसके माध्यम से स्पेक्ट्रम, विनिमय में प्रमुख सुधार होंगे। हम इस पर काम कर रहे हैं और अलग-अलग मंत्रालयों, हितधारकों आदि से बात कर हम अंतिम मसौदा लाएंगे।”

4जी, 5जी और यूपीआई पर बात करते हुए केंद्रीय मंत्री ने कहा “मैं अभी नाम नहीं बता सकता लेकिन हमारे 4जी और 5जी स्टैक को दुनिया के 18 देशों ने रूची जताई है। हमारे यूपीआई को काफी देश अपनाना चाहते हैं। जी20 में यह मुख्य एजेंडा है। इस सर्विस के लिए कम से कम 50-60 देशों ने रूची जताई है।”

यह भी पढ़ेंः

दिग्गज फुटबॉलर मेसी ने दूसरी बार जीता फीफा ‘द बेस्ट प्लेयर’अवॉर्ड, एम्बाप्पे को दी मात

Elon Musk बने दुनिया के सबसे रईस आदमी, बर्नार्ड अर्नाल्ट को पछाड़ दोबारा हासिल किया मुकाम

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here