सर्दियों में इस आटे की बनी रोटियां खाएं , सेहतमंद होने के साथ बढ़ेगी Immunity

Immunity: हेल्‍थ एक्‍सपर्टस के अनुसार रागी और चने के आटे की बनी रोटी से हमारे शरीर को भरपूर मात्रा में प्रोटीन, आयरन और कैल्शियम मिलता है। शरीर अंदर से मजबूत भी होता है।

0
188
Immunity: top news today
Immunity:

Immunity: सर्दियों के मौसम में शरीर की इम्‍युनिटी बनाए रखने, सेहतमंद होने के साथ कुछ नया स्‍वाद चखने के लिए आप चने, रागी, बादाम और ओटस की रोटी खा सकते हैं। इस आटे से बनी रोटियों के सेवन से बेहतर जायके के साथ-साथ आपको मजबूती भी मिलेगी।हेल्‍थ एक्‍सपर्टस के अनुसार रागी और चने के आटे की बनी रोटी से हमारे शरीर को भरपूर मात्रा में प्रोटीन, आयरन और कैल्शियम मिलता है। शरीर अंदर से मजबूत भी होता है।

स्‍वास्‍थ्‍य विशेषज्ञों के अनुसार एक रोटी के सेवन से व्यक्ति को करीब 104 से अधिक कैलोरी का इनटेक होता है।ऐसे में अगर हम अलग-अलग अनाज से बने आटों का सेवन करते हैं, तो हमारे लिए उपयुक्‍त माना जाता है।आइए जानते हैं ऐसे कौन से आटे हैं, जो गेहूं के विकल्‍प के तौर पर आप खा सकती हैं।

Immunity news hindi on atta.
Immunity with Atta.

Immunity : जानिए किस आटे से बनी रोटी देगी आपको भरपूर पोषण?

 Immunity from Ragi ka atta.
Immunity with Atta.

Immunity: रागी – रागी जोकि अधिकतर पहाड़ी इलाकों में पाया जाता है। इसका आटा बेहद बढ़िया माना जाता है।उत्‍तरखंड में तो ये मडुए के नाम से फेमस है।यहां के हर घर की शान होता है मडुए का आटा।

जानकारों के अनुसार रागी के आटे से बनी रोटी का सेवन करने से किसी भी स्‍वास्‍थ्‍य संबंधी दिक्‍कतों से बचा जा सकता है।यह आटा वजन घटाने, कोलेस्ट्रॉल नियंत्रित करने, शुगर नियंत्रित करने के साथ ही त्‍वचा और बालों के लिए फायदेमंद साबित होता है।इससे बनी रोटी पाचक होने के साथ मेटाबोलिज्‍म ठीक रहता है, हाजमा भी दुरूस्‍त रहता है।

Immunity: ओट्स भी है बेहतर विकल्‍प-ओट्स ऐसा भोजन माना जाता है, जो भूख शांत करने के साथ लजीज भी होता है।आप चाहें तो इसके आटे को गेहूं के आटे के साथ मिलाकर बेहतरीन आटा तैयार कर सकतीं हैं।इसमें ग्‍लूटेन नहीं होता है।

इसके साथ ही इसमें मौजूद फाइबर, एंटीऑक्‍सीडेंट और खनिज वजन घटाने में कारगर होते हैं।ओट्स चपाती बनाने के लिए आपको सामान्‍य तौर पर मिलने वाले ओट्स को पीसकर आटा तैयार करना हेागा।

जौ- जौ ऐसा अन्‍न है जो ढेरों खूबियों को समेटे होता है।जौ के सत्‍तू इसलिए खासे पसंद भी किए जाते हैं।पाचन में सुधार के साथ ही इसमें कोलेस्ट्रॉल के स्‍तर को भी कम करने की ताकत होती है।जौ की रोटी के लिए आपको जौ के आटे को गुनगुने पानी में गूंथना होगा।आप चाहें तो इसमें हल्‍की गेहूं का आटा भी मिक्‍स कर सकतीं हैं।

चने की रोटी-काला चना अक्‍सर हर घर में मिलता है।इसे आप घर पर ही पीसकर तैयार कर सकते हैं।इसमें हल्‍के मसालों के साथ ही आप दूध, पानी और दही मिलाकर गूंथ सकते हैं।इसकी रोटी जायकेदार होने के साथ पौष्टिक भी होती है।

Immunity with bajra ka Atta.
Immunity with Atta.

बाजरा- फाइबर से भरपूर चपाती के लिए आप बाजरे की रोटी को अपने आहार में शामिल कर सकते हैं।इसका सेवन आपकी भूख और रक्‍तचाप की समस्‍या नियंत्रित रखता है।इसमें मौजूद मैग्‍नीशियम एवं विटामिन आपको सेहतमंद रखेंगे।

बादाम-एंटी ऑक्‍सीडेंट, मैग्‍नीशियम और फाइबर से भरपूर होते हैं।ये मार्केट में आसानी से मिल जाता है। इसके साथ ही खून की कम ठीक करने का काम भी करता है।आप चाहें तो इसकी नमकीन रोटी मध्‍यम आंच पर सेंककर खा सकती हैं, जोकि स्‍वाद से भरपूर होता है।

संबंधित खबरें