Delhi ki Ramleela होगी खास, कर्तव्‍य पथ के मॉडल पर दिखेगा भव्‍य पंडाल, राजनीति के दिग्‍गज करेंगे Perform, केंद्रीय मंत्री अश्विनी चौबे बनेंगे ऋषि वशिष्‍ठ

Delhi ki Ramleela : उत्‍तर पूर्वी जिले से भाजपा सांसद मनोज तिवारी केवट की भूमिका में दिखेंगे। दिग्‍गज अभिनेता असरानी नारद और टीवी अभिनेता निर्भय वाधवा हनुमान जी की भूमिका निभाएंगे।

0
60
Delhi ki Ramleela: Ministers will play roles
Delhi ki Ramleela:

Delhi ki Ramleela: राजधानी में रामलीला मंचन शुरू होने में कुछ ही दिन शेष हैं। कोरोना काल के बाद आयोजित हो रही रामलीला इस बार बेहद खास रहेगी।राजधानी की सबसे पुरानी और भव्‍य रामलीला जोकि रामलीला मैदान में होती है। इस वर्ष बेहद खास होगी।इसका भव्‍य मंच हाल ही में बनाए गए कर्तव्‍य पथ के ऊपर पर आधारित होगा। वहीं दूसरा आकर्षण हर वर्ष की भांति इस बार इसमें भाग लेने वाले कलाकार होंगे। ये कोई चिर-परिचित कलाकार नहीं बल्कि खुद केंद्र सरकार के कैबिनेट मंत्री होंगे।ऋषि वशिष्‍ठ की भूमिका में केंद्रीय मंत्री अश्विनी चौबे नजर आएंगे, वहीं इस्‍पात मंत्री फग्‍गन सिंह कुलस्ते ऋषि अगस्‍त्‍य और में केंद्रीय संसदीय कार्य और संस्‍कृति राज्‍य मंत्री अर्जुन राम मेघवाल भजन गाएंगे।

Delhi ki Ramleela: top hindi news.
Delhi Ki Ramleela.

Delhi ki Ramleela: कर्तव्‍य पथ का बना मंच होगा खास

लवकुश रामलीला समिति की ओर से आयोजित 26 सितंबर से रामलीला का मंचन किया जाएगा और अगले माह दशहरे पर इसकी समाप्ति होगी। समिति की ओर से रामलीला स्‍थल पर कर्तव्‍य पथ का मॉडल तैयार किया जाएगा।इस पर हरे रंग की बिछाई गई कालीन पर फूलदान रखे जाएंगे। इस वर्ष देश की आजादी की 75वीं वर्षगांव के मौके पर मैदान को 75 झंडों से भी सजाया जाएगा।

Delhi ki Ramleela: केवट बन श्रीरामचंद्र जी की नैया चलाएंगे मनोज तिवारी

jai shri ram 2
Delhi ki Ramleela.

उत्‍तर पूर्वी जिले से भाजपा सांसद मनोज तिवारी केवट की भूमिका में दिखेंगे। दिग्‍गज अभिनेता असरानी नारद और टीवी अभिनेता निर्भय वाधवा हनुमान जी की भूमिका निभाएंगे। वहीं बॉलीवुड ओर टीवी जगत में अपनी अलग भूमिकाओं के लिए पहचाने जाने वाले अभिनेता अखिलेंद्र मिश्रा रावण का पात्र बनेंगे।आयोजकों का दावा है कि इस बार की रामलीला सबसे बड़ी होगी।

Delhi Ki Ramleela: विजयदशमी के मौके पर PM Modi आमंत्रित

रामलीला मंचन के दौरान विजयदशमी के मौके पर खासतौर से पीएम मोदी और द्रौपदी मुर्मू को यहां आमंत्रित किया गया है।आयोजकों के अनुसार उनकी तरफ से स्‍वीकृति की प्रतीक्षा शेष है।रामलीला मुख्‍य परिसर के द्वार पर प्रभु श्रीराम की तस्‍वीर लगेगी। इसे राम द्वार नाम दिया जाएगा। इसी द्वार से दरियागंज से आने वाले अतिथियों का स्‍वागत होगा। दूसरे द्वार का नाम नेताजी सुभाष चंद्र बोस के नाम पर दिया जाएगा, जिस पर कर्तव्‍य पथ पर स्‍थापित नेताजी की प्रतिमा का प्रतिरूप दिखाई देगा।

संबंधित खबरें

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here