Vice President Election 2022: जानिए कैसे होता है उपराष्ट्रपति का चुनाव, आम चुनावों से कितना है ये अलग

सभी सांसद 6 अगस्त को नए उपराष्ट्रपति के लिए वोट देंगे। उसी दिन चुनाव के नतीजे भी आ जाएंगे। 6 अगस्त को वोटिंग का समय सुबह 10 बजे से 5 बजे तक का होगा। इसके बाद ही गिनती का समय शुरू हो जाएगा।

0
194
Vice President Election 2022: जानिए कैसे होता है उपराष्ट्रपति का चुनाव, आम चुनावों से कितना है ये अलग
Vice President Election 2022: जानिए कैसे होता है उपराष्ट्रपति का चुनाव, आम चुनावों से कितना है ये अलग

Vice President Election 2022: देश में राष्ट्रपति का चुनाव हो चुका है और साल 2022 में देश को अपना नया राष्ट्रपति द्रोपदी मुर्मू के रूप में मिल गया है। अब राष्ट्र में उपराष्ट्रपति चुनाव को लेकर तैयारियां शुरू हो चुकी हैं। बता दें कि वर्तमान उपराष्ट्रपति वेंकैया नायडू का कार्यकाल 10 अगस्त को समाप्त होने जा रहा है।

ऐसे में हम कह सकते है कि आने वाले दिनों में देश को अपना नया उपराष्ट्रपति जल्द मिलने वाला है। यह चुनाव राष्ट्रपति के चुनाव से एकदम अलग होता है। इसमें वोट डालने का अधिकार केवल सांसदों को होता है, जबकि राष्ट्रपति चुनावों में देश की तमाम विधानसभाओं के विधायक और सांसद वोट डालते हैं।

अब सवाल यह उठता है कि उपराष्ट्रपति के चयन के लिए चुनाव प्रक्रिया क्या है, इसके नतीजे कब आते हैं, कैसे वोटों की गिनती होती है। इन सभी सवालों के जवाब आपको हमारी इस रिपोर्ट के जरिए आसानी से मिल जाएगा। आइए जानते हैं देश में दूसरे बड़े संवैधानिक पद का चुनाव कैसे होता है?

Vice President Election 2022: जानिए कैसे होता है उपराष्ट्रपति का चुनाव, आम चुनावों से कितना है ये अलग
Vice President Election 2022

Vice President Election 2022: उपराष्ट्रपति चुनाव में कौन-कौन है उम्मीदवार

  • NDA के उम्मीदवार हैं जगदीप धनखड़

एनडीए ने अपनी तरफ से बंगाल के राज्यपाल जगदीप धनखड़ को चुनाव में उतारा है। जगदीप धनखड़ राजस्थान के किसान परिवार से आते हैं और जाट समुदाय से संबंध रखते हैं। राजस्थान में जाट समुदाय को आरक्षण दिलवाने में इनका अहम रोल था। फिलहाल वह बंगाल के राज्यपाल के पद पर हैं। धनखड़ राजनीति के पुराने खिलाड़ी हैं। वह राज्यपाल से पहले सांसद और विधायक भी रह चुके हैं।

Vice President Election 2022: जानिए कैसे होता है उपराष्ट्रपति का चुनाव, आम चुनावों से कितना है ये अलग
Vice President Election 2022
  • विपक्ष की उम्मीदवार मार्गरेट अल्वा

एनडीए के खिलाफ विपक्ष ने उपराष्ट्रपति चुनाव के लिए मार्गरेट अल्वा को अपना उम्मीदवार बनाया है। मार्गरेट अल्वा का राजनीतिक सफर 1974 में कांग्रेस के प्रतिनिधि के तौर पर राज्यसभा में चयन से शुरू हुआ था। इसके बाद उन्होंने गोवा, राजस्थान, गुजरात और उत्तराखंड में राज्यपाल का पद संभाला है। एक रोमन कैथोलिक परिवार में जन्मी मार्गरेट अल्वा चार बार राज्यसभा की सदस्य रह चुकी हैं। मार्गरेट अल्वा को हमेशा से गांधी परिवार का करीबी माना गया पर साल 2008 में उनके बेटे को टिकट न मिलने पर गांधी परिवार और उनके बीच दूरी बढ़ गई। बावजूद इसके विपक्षी पार्टी के रूप में कांग्रेस ने अपनी तरफ से मार्गरेट अल्वा को उपराष्ट्रपति पद के लिए मैदान में उतारा है।

Vice President Election 2022: जानिए कैसे होता है उपराष्ट्रपति का चुनाव, आम चुनावों से कितना है ये अलग
Vice President Election 2022

Vice President Election 2022: कब और कैसे होगा चुनाव?

साल 2022 में मौजूदा उपष्ट्रपति वेंकैया नायडू का कार्यकाल 10 अगस्त को खत्म होने जा रहा है। इससे पहले नए उपराष्ट्रपति का चयन संपन्न कर लिया जाएगा। 6 अगस्त को उपराष्ट्रपति चुनाव की तारीख तय की गई है।

सभी सांसद 6 अगस्त को नए उपराष्ट्रपति के लिए वोट देंगे। उसी दिन चुनाव के नतीजे भी आ जाएंगे। 6 अगस्त को वोटिंग का समय सुबह 10 बजे से 5 बजे तक का होगा। इसके बाद ही गिनती का समय शुरू हो जाएगा।

भारत के संविधान के अनुच्छेद 66 (1) के अनुसार, निर्वाचक मंडल के सदस्य यानी दोनों सदनों के सांसद चुनाव में वोट डालने का अधिकार रखते हैं। उपराष्ट्रपति चुनाव में मोननीत सदस्यों को भी वोट डालने का अधिकार होता है।

Vice President Election 2022: जानिए कैसे होता है उपराष्ट्रपति का चुनाव, आम चुनावों से कितना है ये अलग
Vice President Election 2022

उपराष्ट्रपति का चुनाव सीक्रेट बैलेट बॉक्स के जरिए होता है। चुनाव के नतीजे भी उसी दिन घोषित कर दिए जाएंगे। जहां राष्ट्रपति चुनाव में रिटर्निंग अफसर राज्यसभा के महासचिव पीसी मोदी थे। वहीं, उपराष्ट्रपति के चुनाव में रिटर्निंग अफसर की भूमिका में लोकसभा के महासचिव उत्पल कुमार सिंह निभाएंगे। जबकि संयुक्त सचिव पीसी त्रिपाठी और लोकसभा सचिवालय के निदेशक राजू श्रीवास्तव अस्सिटेंट रिटर्निंग अफसर होंगे।

Vice President Election 2022: जीतने के लिए कितने वोट हैं जरूरी?

इस समय राज्यसभा सदस्यों की मौजूदा संख्या 237 हैं। जिसमें से 228 सदस्य निर्वाचित हैं और मनोनीत सदस्य 9 हैं। लोकसभा में मौजूदा सदस्य 543 है। निर्वाचक मंडल के कुल सदस्य 780 (237+543 = 780) हुए। ऐसे में किसी भी उम्मीदवार को जीतने के लिए आधे से अधिक यानी 391 का वोट मिलना जरूरी है।

यह भी पढ़ें:

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here