‘सभी राजनीतिक जिम्मेदारियों से होना चाहता हूं मुक्त’- Bhagat Singh Koshyari का बड़ा बयान

महाराष्ट्र के राज्यपाल भगत सिंह कोश्यारी ने लिखा, ''पीएम मोदी के मुंबई के हालिया दौरे के दौरान , मैंने प्रधानमंत्री को बताया कि मैं सभी राजनीतिक जिम्मेदारियों से मुक्त होना चाहता हूं और बाकी समय पढ़ने लिखने में बिताना चाहता हूं।''

0
21
'सभी राजनीतिक जिम्मेदारियों से होना चाहता हूं मुक्त'- Bhagat Singh Koshyari का बड़ा बयान
Bhagat Singh Koshyari

Bhagat Singh Koshyari: महाराष्ट्र के राज्यपाल भगत सिंह कोश्यारी का कहना है कि वे सभी राजनीतिक जिम्मेदारियों से मुक्त होना चाहते हैं। इस बारे में उन्होंने अपनी बात पीएम नरेंद्र मोदी के सामने भी रखी है। सोमवार को अपने ट्वीट में भगत सिंह कोश्यारी ने लिखा, ‘महाराष्ट्र के राज्यपाल के रूप में काम करना मेरे लिए गर्व की बात रही है। पिछले 3 सालों में महाराष्ट्र के लोगों ने जो प्यार दिया उसे मैं कभी नहीं भुला सकूंगा।’

राज्यपाल ने आगे लिखा, ”पीएम मोदी के मुंबई के हालिया दौरे के दौरान , मैंने प्रधानमंत्री को बताया कि मैं सभी राजनीतिक जिम्मेदारियों से मुक्त होना चाहता हूं और बाकी समय पढ़ने लिखने में बिताना चाहता हूं।” गौरतलब है कि भगत सिंह कोश्यारी बतौर राज्यपाल कई बार चर्चा में रहे हैं। उन्होंने सितंबर 2019 में महाराष्ट्र के राज्यपाल का पदभार संभाला था। वे चर्चा में रहे थे जब उन्होंने देवेंद्र फडणवीस को सुबह तड़के सीएम पद की शपथ दिला दी थी। इसके बाद जब उद्धव ठाकरे सीएम बने तो उनकी सरकार और राज्यपाल के बीच अक्सर नोक झोक होती रही।

Bhagat Singh Koshyari
Bhagat Singh Koshyari अपने बयानों के लिए चर्चा में रह चुके हैं

Bhagat Singh Koshyari अपने बयानों के लिए चर्चा में रह चुके हैं

कोश्यारी अपने बयानों के लिए भी चर्चा में रहे। उन्होंने एक बयान में कहा था कि अगर महाराष्ट्र से राजस्थानी, मारवाड़ी और गुजराती लोग चले जाते हैं तो मुंबई देश की आर्थिक राजधानी नहीं रह जाएगी। पिछले साल उन्होंने कहा था कि शिवाजी पुराने जमाने के आदर्श थे।

बता दें कि कोश्यारी उत्तराखंड के पूर्व मुख्यमंत्री रहे हैं। वे इस पद पर अक्टूबर 2001 से मार्च 2002 तक रहे । वे उत्तराखंड से राज्यसभा और लोकसभा सांसद भी रहे हैं।

संबंधित खबरें…