Share Market Crash: सप्ताह के आखिरी दिन शेयर बाजार में भारी बिकवाली, निवेशकों को 5 लाख करोड़ का झटका…

एक्‍सपर्ट के मुताबिक, विश्‍व बैंक और IMF ने ग्‍लोबल स्‍लोडाउन की आशंका जताई जा रही है। मंदी के डर से निवेशक सतर्क हो गए हैं। वहीं, यूएस में महंगाई अभी हाई लेवल पर है, जिससे रेट हाइक और एग्रेसिव तरीके से हो सकता है। इन सबके चलते बिकवाली देखने को मिल रही है।

0
82
Share Market Crash: सप्ताह के आखिरी दिन शेयर बाजार में भारी बिकवाली, निवेशकों को 5 लाख करोड़ का झटका...
Share Market Crash: सप्ताह के आखिरी दिन शेयर बाजार में भारी बिकवाली, निवेशकों को 5 लाख करोड़ का झटका...

Share Market Crash: सप्ताह के आखिरी दिन शुक्रवार यानी 16 सितंबर को भारतीय शेयर बाजार भारी गिरावट के साथ खुला। आज लगातार तीसरा दिन है, जब स्टॉक मार्केट में गिरावट देखने को मिली। आज के कारोबार में सेंसेक्‍स और निफ्टी दोनों इंडेक्‍स में तेज गिरावट रही। सेंसेक्‍स में करीब 1000 अंकों की गिरावट रही तो निफ्टी 17650 के साथ नीचे आ गया। बाजार में तकरीबन हर सेक्‍टर के शेयरों में बिकवाली देखने को मिली।

आईटी और ऑटो इंडेक्‍स निफ्टी 2 फीसदी से ज्‍यादा कमजोर हुए। बैंक और फाइनेंशियल में भी बाजार कमजोर रहा। बाजार की इस गिरावट में निवेशकों के करीब 5 लाख करोड़ रुपये डूब गए। वहीं, एक्‍सपर्ट का कहना है कि हालिया डाटा से यूएस में इकोनॉमिक ग्रोथ की तस्‍वीर स्पष्ट नहीं है।

Share Market
Share Market Crash

Share Market Crash: निवेशकों के करोड़ो रुपये का हुआ नुकसान

आज बाजार की गिरावट में निवेशकों को भारी नुकसान उठाना पड़ा। बीते गुरुवार को यानी 16 सितम्बर को बीएसई लिस्‍टेड कंपनियों का मार्केट कैप 2,80,53,081.37 करोड़ था। यह आज दोपहर करीब 2 बजे तक घटकर 2,85,87,358.36 करोड़ रह गया। यानी कुछ घंटों में ही निवेशकों को करीब 5 लाख करोड़ का नुकसान हो गया।

Share Market Crash: टेक महिंद्रा और टीसीएस के शेयर गिरे

महिंद्रा एंड महिंद्रा, टेक महिंद्रा, टाटा कंज्यूमर प्रोडक्ट्स, ओएनजीसी और टीसीएस के शेयर्स शुरुआती कारोबार में 1.94 फीसदी तक गिरे। वहीं, यूपीएल, इंडसलेंड बैंक, सन फार्मा और एशियन पेंट्स टॉप गेनर रहे।

Share Market
Share Market Crash: बाजार में क्‍यों आई भारी गिरावट

Share Market Crash: बाजार में क्‍यों आई भारी गिरावट

Swastika Investmart Ltd. के रिसर्च हेड, संतोष मीना का कहना है कि रेजिलेंस की लंबी अवधि के बाद बाजार में अब बिकवाली का दबाव देखने को मिल रहा है। ग्‍लोबल सेंटीमेंट लगातार कमजोर बने हुए हैं। डॉलर इंडेक्‍स और बॉन्‍ड यील्‍ड में तेजी है। यूएस इनफ्लेशन नंबर से भी सेंटीमेंट खराब किया है।

FOMC मीटिंग के बाद ग्‍लोबल मार्केट में सुस्‍ती दिख रही है। उन्होंने बताया कि यूएस फेड 100 बेसिस प्‍वॉइंट रेट हाइक कर सकता है। निफ्टी के लिए अब 17470-17400 के लेवल पर डिमांड जोन है। एक्‍सपर्ट के मुताबिक, विश्‍व बैंक और IMF ने ग्‍लोबल स्‍लोडाउन की आशंका जताई जा रही है।

मंदी के डर से निवेशक सतर्क हो गए हैं। वहीं, यूएस में महंगाई अभी हाई लेवल पर है, जिससे रेट हाइक और एग्रेसिव तरीके से हो सकता है। इन सबके चलते बिकवाली देखने को मिल रही है। Nifty को अभी 17300 के लेवल पर सपोर्ट है, इससे नीचे आने पर निफ्टी में और बड़ी गिरावट आ सकती है।

download 5 1
Share Market Crash: अमेरिकी बाजारों में रही गिरावट

Share Market Crash: अमेरिकी बाजारों में रही गिरावट

गुरुवार को Nasdaq में 1.43 फीसदी गिरावट रही और यह 11,552.36 के लेवल पर बंद हुआ था। S&P 500 इंडेक्‍स में 1.13 फीसदी गिरावट रही और यह 3,901.35 के लेवल पर बंद हुआ। जबकि Dow Jones में 173 अंकों की कमजोरी रही और यह 30,961.82 के लेवल पर बंद हुआ।

download 7 1
Share Market Crash: एशियाई बाजारों में बिकवाली

Share Market Crash: एशियाई बाजारों में बिकवाली

आज के कारोबार में प्रमुख एशियाई बाजारों में बिकवाली देखने को मिली। Nifty 50 में 1.94 फीसदी गिरावट के साथ बंद हुआ तो सेंसेक्‍स भी 1.82 फीसदी टूट गया। स्‍ट्रेट टाइम्‍स फ्लैट है तो हैंगसेंग में 0.81 फीसदी कमजोर रहा। ताइवान वेटेड में 0.94 फीसदी तो कोस्‍पी में 0.62 फीसदी गिरावट देखने को मिली। शंघाई कंपोजिट में 0.61 फीसदी कमजोर रहा।

संबंधित खबरें…

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here