Meta Layoff: मेटा कंपनी ने की 11 हजार से ज्यादा कर्मचारियों की छंटनी, सभी निकाले गए कर्मचारियों को दी जाएगी 4 महीने की सैलरी

0
105
Meta Layoff: मेटा कंपनी ने ऑफिस से निकाले 11 हजार कर्मचारी, सभी निकाले गए कर्मचारियों को दी जाएगी 4 महीने की सैलरी
Meta Layoff: मेटा कंपनी ने ऑफिस से निकाले 11 हजार कर्मचारी, सभी निकाले गए कर्मचारियों को दी जाएगी 4 महीने की सैलरी

Meta Layoff: फेसबुक की पेरेन्ट कंपनी मेटा ने 11 हजार से अधिक कर्मचारियों को अचानक नौकरी से निकाल दिया है। हालांकि, इस बात की जानकारी पहले ही लग चुकी थी कि कंपनी अपने कर्मचारियों की छंटनी करने वाली है। कंपनी के रेवन्यू में कमी आने के कारण कर्मचारियों को छांटा जा रहा है। कंपनी की तरफ से इस बात की भी पुष्टि की गई है कि निकाले गए सभी कर्मचारियों को अगले चार महीने की पूरी सैलरी दी जाएगी।

FhFzTqMakAA3wgK?format=png&name=small
Meta Layoff

बताया जा रहा है कि मेटा कंपनी के सीईओ मार्क जुकरबर्ग ने एक ब्लॉग पोस्ट शेयर करते हुए कहा, “आज मैं मेटा के इतिहास में किए गए कुछ सबसे कठिन बदलावों को साझा कर रहा हूं। मैंने अपनी टीम के आकार को लगभग 13% कम करने और हमारे 11,000 से अधिक प्रतिभाशाली कर्मचारियों को कंपनी से बाहर करने का फैसला लिया है।”

Meta Layoff: इन कर्मचारियों की गर्दन पर भी लटक रही तलवार

मिली जानकारी के मुताबिक मेटा कंपनी के रेवन्यू की कमी के कारण कर्मचारियों को निकाला जा रहा है। इसलिए अंदाजन ऐसा कहा जा सकता है कि इंस्टाग्राम और व्हाट्सएप के कर्मचारियों की नौकरी पर भी तलवार लटकी हुई है। लगातार हो रहे नुकसान को देखते हुए ट्विटर, वॉलमार्ट, अलीबाबा समेत कई बड़ी कंपनियों ने बड़े पैमाने पर कर्मचारियों की छंटनी की है।

Meta Layoff: लगभग 18 साल पहले हुई थी इतनी छंटनी

फेसबुक की शुरुआत साल 2004 में हुई थी जिसे बाद में बदलकर मेटा कहा जाने लगा। जानकारी के मुताबिक फिलहाल कंपनी में 87 हजार कर्मचारी काम कर रहे हैं। आपको बता दें, रिकॉर्ड के मुताबिक लगभग 18 साल पहले मेटा कंपनी ने इतनी बड़ी संख्या में कर्मचारियों को नौकरी से निकाला था।

Meta Layoff:

Meta Layoff: Mark Zuckerberg के नेटवर्थ में आई कमी

मार्क जुकरबर्ग पहले दुनिया के टॉप 10 अमीर लोगों की लिस्ट में शामिल रहते थे लेकिन अब वे इस लिस्ट में 29वें पायदान पर पहुंच गए हैं। ताजा अपडेट के मुताबिक मार्क जुकरबर्ग का नेटवर्थ मात्र 33.5 अरब डॉलर रह गया है।

कंपनी के वरिष्ठ अधिकारियों का कहना है कि कर्मचारियों के लिए की गई बैठक के दौरान मार्क जुकरबर्ग काफी निराश थे। उनका कहना है कि कंपनी के ज्यादा उम्मीदों की वजह से इतने ज्यादा कर्मचारियों की भर्ती की गई थी इसलिए अचानक कंपनी को इतनी बड़ी संख्या में छंटनी की गई थी।

संबंधित खबरें:

Twitter यूजर्स को लगा झटका! सिर्फ Blue Tick नहीं बल्कि सभी यूजर्स को देना होगा चार्ज

Elon Musk ने दी जानकारी, भारत में कब लगेगा Twitter पर ब्लू टिक के लिए चार्ज…

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here