“महिलाएं कुछ भी न पहनें तो भी अच्छी लगती हैं”, Ramdev के बयान से बरपा ‘हंगामा’

दिल्ली महिला आयोग (DCW) की अध्यक्ष स्वाति मालीवाल का भी बयान सामने आया है। उन्होंने कहा, “स्वामी रामदेव द्वारा महाराष्ट्र के उपमुख्यमंत्री की पत्नी के सामने महिलाओं पर की गई टिप्पणी अशोभनीय और निंदनीय है।

0
95
ramdev
ramdev

स्वामी Ramdev ने एक योग प्रशिक्षण कार्यक्रम में विवादास्पद टिप्पणी कर के सोशल मीडिया पर भारी हंगामा खड़ा कर दिया है। महिलाओं के पहनावे पर बात करते हुए, योग गुरु ने कहा, “औरतें साड़ियों में अच्छी लगती हैं, वे सलवार सूट में बहुत अच्छी लगती हैं, और मेरे विचार से वे कुछ भी न पहनने पर भी अच्छी लगती हैं।”

योग कार्यक्रम को संबोधित कर रहे थे रामदेव

बता दें कि रामदेव ने जब विवादास्पद बयान दिया, उस वक्त मंच पर महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री एकनाथ शिंदे के बेटे और ठाणे के सांसद श्रीकांत शिंदे, और महाराष्ट्र के डिप्टी सीएम देवेंद्र फडणवीस की पत्नी अमृता फडणवीस सहित अन्य वीआईपी लोग मौजूद थे। स्वामी रामदेव,ठाणे में पतंजलि योगपीठ और मुंबई महिला पतंजलि योग समिति द्वारा आयोजित एक योग विज्ञान शिविर में पहुंचे थे। अब इस टिप्पणी के बाद से सोशल मीडिया लोगों ने उनसे ऑनलाइन माफी की मांग की है।

बताते चले कि दिल्ली महिला आयोग (DCW) की अध्यक्ष स्वाति मालीवाल का भी बयान सामने आया है। उन्होंने कहा, “स्वामी रामदेव द्वारा महाराष्ट्र के उपमुख्यमंत्री की पत्नी के सामने महिलाओं पर की गई टिप्पणी अशोभनीय और निंदनीय है। इस बयान से सभी महिलाएं आहत हुई हैं, बाबा रामदेव जी को इस बयान के लिए देश से माफी मांगनी चाहिए!

बाबा रामदेव शिविर में भाग लेने वाली महिलाओं के साथ बातचीत कर रहे थे। योग प्रशिक्षण के तुरंत बाद शुरू हुई बातचीत के लिए कई महिलाएं बदलने में असमर्थ थीं। यह देखते हुए कि कई महिलाएं अपनी साड़ियों में बदलने में असमर्थ हैं, रामदेव ने कहा कि यह कोई समस्या नहीं है और वे घर जाने के बाद ऐसा कर सकती हैं। इसके बाद उन्होंने विवादित बयान दिया।

यह भी पढ़ें: