बिहार की ‘करिश्माई बिटिया’ जो UPSC की परीक्षा में बनी ऑल इंडिया नंबर वन, यहां पढ़ें टॉपर इशिता किशोर की सफलता की कहानी

टॉपर इशिता किशोर के दिए सफलता के टिप्स

0
179
UPSC Topper:अपनी मम्मी ज्योति किशोर के साथ टॉपर इशिता किशोर
UPSC Topper:अपनी मम्मी ज्योति किशोर के साथ टॉपर इशिता किशोर

UPSC Topper:क्रिकेट का मैदान से ज्यादा रोमांचक फाइनल था ये और जब बेटियों ने मारी बाजी तो जड़ दिया विक्ट्री का चौका। हम आपको यहां आज उनकी कहानी बता रहे हैं जिन्होंने लगन और मेहनत से वो कर दिखाया जिसे कमाल से कम नहीं कह सकते। यूपीएससी की टॉपर लिस्ट में कामयाबी से रच दी करिश्मे की कहानी और बन गईं अफसर बिटिया। कहानी UPSC टॉपर इशिता किशोर की।
हर ओर शोर। इशिता किशोर! बिहार की करिश्माई बिटिया जिसने यूपीएससी की सिविल सर्विसेज में पहला स्थान ले लिया। ऑल इंडिया रैंकिंग में नंबर वन। देश की सबसे मुश्किल माने जाने वाले सिविल सर्विसेज के इम्तिहान में परचम लहराना ना आज से बीस साल पहले आसान था ना आज से बीस साल बाद आसान रहेगा। ऐसे में जब यूपीएससी के नतीजे आए तो इशिता ने परचम लहरा दिया। लगन और संकल्प हो और दिशा सही हो तो मंजिल कोई भी मुश्किल नहीं होती इशिता ने ये साबित कर दिया।

UPSC Topper: टॉपर इशिता किशोर

UPSC Topper:सर से उठा पिता का साया मां ने दी साथ

यूपीएससी में पहला रैंक लाने वाली इशिता की पढ़ाई-लिखाई एयरफोर्स बाल भारती स्कूल से हुई छोटी थीं तो पापा का साया सर से उठ गया। इशिता के पापा एयरफोर्स में विंग कमांडर थे, मम्मी भी एयरफोर्स से रिटायर हुईं। पापा दुनिया से चले गए लेकिन मम्मी हौसला बनकर खड़ी रहीं। पढ़ा लिखाकर इस मुकाम तक पहुंचाया कि बिटिया ने पूरे हिंदुस्तान में जीत का डंका बजा दिया। इशिता के रिजल्ट से मां ज्योति किशोर गदगद हैं। खुशी समाए नहीं समा रही।

इशिता की मम्मी ज्योति किशोर ने अफसर बिटिया के बारे में जो जानकारियां शेयर की हैं वो साबित करती हैं कि इशिता की इच्छा शक्ति और तैयारी कितनी मजबूत थी। इशिता की मां ने कहा,”इशिता की बहुत अच्छी तैयारी रही है। वो हमेशा अपने गोल के प्रति फोकस्ड रही है। पूरा परिवार इशिता के लिए हमेशा सपोर्टिव रहा है। सभी लोग बहुत सपोर्ट करते हैं।”

UPSC Topper: कॉलेज के दिनों में इशिता किशोर

UPSC में तीसरे अंटेप्ट में इशिता ने मारी बाजी

मालूम हो कि पहले दो अटेंप्ट में प्री लिम्स भी नहीं कर पाई थीं क्लियर लेकिन तीसरे चांस में इशिता ने मार लिया मैदान। अफसर बिटिया के संकल्प और इच्छा शक्ति को कोई भी सैल्यूट करेगा। जरा सोचिए कि जिसे दो बार पी टी तक में जगह नहीं मिलती है वो तीसरे अंटेप्ट में कामयाबी के सातवें आसमान पर पहुंच के मैदान मार लेती है। इनके लिए यह कहा जा कता है कि हारी बाजी भी जीतना आता है वो इशिता किशोर कहलाता है।

टॉपर इशिता किशोर ने दिए सफलता के टिप्स
एक टॉपर की दुनिया कैसी होती है, वो क्या सोचते हैं, उनका रहन सहन क्या होता है,वो यूपीएससी में हॉट सीट पर बैठते हैं तो सवालों का सामना कैसे करते हैं, इशिता किशोर के हवाले से मीडिया में जो कुछ आया है वो बेहद मोटिवेशनल है। लेकिन ज्यादा जरूरी वो टिप्स हैं जो इशिता ने दिए।
इशिता ने बताया,”UPSC की तैयारी के दौरान क्या करना है और क्या नहीं , हर किसी को अपने हिसाब से ये तय करना चाहिए। धैर्य बनाए रखना जरूरी है, लगातार पढ़ाई करते हुए संयम से काम लेना होगा, मैंने परिवार और दोस्तों को भी जरूरी वक्त दिया।”

उन्होंने आगे कहा,”कोई भी अकेले रहकर कामयाब नहीं हो सकता। सोशल मीडिया दोस्तों से जुड़े रहने के लिए बहुत जरूरी है और लर्निंग भी होती रहती हैं। मैं OTT प्लेटफार्म पर बहुत मूवी देखती हूं, ऑनलाइन इंटरनेट पर काफी सारी चीजें फ्री में मिल जाती हैं। लेकिन एक-दो वेबसाइट को चुन लें और उन्हें ही फॉलो करें। ज्यादा वक्त बर्बाद न करें।”

यह भी पढ़ेंः

मिस्टर इंडिया रहे प्रेमराज अरोड़ा की 42 साल की उम्र में हार्ट अटैक से मौत

“AAP को तोड़ने के लिए BJP ने चलाया ‘ऑपरेशन लोटस’, जब सफल नहीं हुए तो…”, मुंबई में उद्धव ठाकरे से मिले CM केजरीवाल

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here