Iran News: मेट्रो स्टेशन पर पुलिस ने प्रदर्शनकारियों पर चलाई अंधाधुंध गोलियां, भगदड़ का Live Video आया सामने

0
101
Iran News: मेट्रो स्टेशन पर पुलिस ने प्रदर्शनकारियों पर चलाई अंधाधुंध गोलियां, भगदड़ का Live Video आया सामने
Iran News: मेट्रो स्टेशन पर पुलिस ने प्रदर्शनकारियों पर चलाई अंधाधुंध गोलियां, भगदड़ का Live Video आया सामने

Iran News: ईरान में एक बार फिर तनाव बढ़ता दिख रहा है। ईरान में पिछले कई दिनों से हिजाब के विरोध में अलग-अलग जगह प्रदर्शन हो रहे हैं। हाल ही में कुछ प्रदर्शनकारी तेहरान के मेट्रो स्टेशन पर 22 वर्षीय महसा अमीनी की मौत का विरोध कर रहे थे। इसी दौरान प्रदर्शनकारी और पुलिस -प्रशासन के बीच झड़प हो गई थी जिसमें प्रदर्शनकारियों पर गोलियां चलाई गईं और लाठी-डंडों से उनकी पिटाई भी की गई। इस फायरिंग के बाद स्टेशन पर अफरा-तफरी मच गई, लोग एक-दूसरे पर चढ़कर इधर-उधर भागने लगे।

1 2
Iran News

Iran News: भगदड़ का Live Video सामने आया

इस फायरिंग के दौरान मेट्रो स्टेशन पर कई प्रदर्शनकारी मौजूद थे। यह सभी महसा अमीनी के लिए न्याय की मांग कर रहे थे तभी वहां पर पुलिस आ पहुंची। पुलिस की अंधाधुंध फायरिंग से पूरे मेट्रो स्टेशन पर भगदड़ मच गई। लोग अपनी जान बचाकर भागने लगे। जानकारी के मुताबिक इसमें लगभग 10 लोगों के जख्मी होने की खबर सामने आ रही है।

Iran News: फायरिंग में पांच लोगों की मौत

इससे पहले बुधवार को ईरान के शहर ईज़ेह में कुछ अज्ञात बंदूकधारियों ने बाजार में गोलीबारी कर दी जिसमें दो महिलाओं समेत पांच लोगों की मौत हो गई। इस गोलीबारी में कई लोग जख्मी भी हो गए थे। हालांकि, इस बात का अब तक पता नहीं लग पाया है कि आखिर ये गोलीबारी किसने की है क्योंकि अब तक किसी गुट ने भी इसकी जिम्मेदारी नहीं ली है। बताया जा रहा है कि दोनों हमलावर मोटरसाइकिल पर सवार थे और अचानक गोलीबारी करने लगे।

Iran News: क्यों हो रहा विरोध प्रदर्शन

ईरान में पुलिस हिरासत में 22 वर्षीय महिला मेहसा अमीनी को ठीक तरीके से हिजाब न पहनने के आरोप में गिरफ्तार कर लिया था। हिरासत में रहते हुए ही तीन दिन बाद 16 सितंबर को उसकी मौत हो गई। इसके बाद ईरान में हिजाब के विरोध में कई प्रदर्शन किए गए। यहां तक कि महिलाएं अपने बाल काटकर इसका विरोध करने सड़कों पर उतर गई थीं। हालांकि, ईरान सरकार ने इस बात का दावा किया है कि अमीनी के साथ कोई बुरा बर्ताव नहीं किया गया, जबकि अमीनी के परिवार का कहना है कि उसके शरीर पर कई तरह के चोट और पिटाई के निशान थे।

संबंधित खबरें:

“ये ठीक नहीं हुआ…”, G20 सम्मेलन के दौरान जिनपिंग और ट्रूडो के बीच तकरार

Poland पर Russia ने नहीं दागी थी मिसाइलें, जानिए NATO के बारे में जिसकी Missile हमले के बाद बुलाई गई आपातकालीन बैठक

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here