किसानों ने शुरू किया दिल्ली मार्च, आंदोलन में इस बार ले कर बैठेंगे 6 महीने का राशन

0
15

किसान यूनियनों के ‘दिल्ली चलो’ मार्च को लेकर हरियाणा पुलिस और दिल्ली पुलिस हाई अलर्ट पर है। संयुक्त किसान मोर्चा के साथ-साथ उत्तर प्रदेश, हरियाणा और पंजाब के ज्यादातर किसानो संघों ने फसलों के लिए न्यूनतम समर्थन मूल्य (MSP) की गारंटी को लेकर कानून बनाने की मांग कर रहे है। किसानों के 13 फरवरी को शुरू होने वाले दिल्ली चलो अभियान से पहले दिल्ली-हरियाणा में प्रशासन अलर्ट पर है। धारा-144 लगा दी गई है और दिल्ली की सीमाओं पर सुरक्षा कड़ी कर दी गई है। किसानों ने कहा कि हम अपनी मांगों को पूरा करवाकर ही जाएंगे और हम 6 महीने का राशन लेकर आए हैं।

दिल्ली में धारा 144 लागू

  • बॉर्डर से ट्रेक्टर-ट्रॉली के प्रवेश पर रोक।
  • लाउडस्पीकर के इस्तेमाल पर रोक।
  • फायर आर्म्स, प्रदार्थ, ईंट-पत्थर इक्कठा करने और पेट्रोल-सोडा बोतल इक्कठा करने पर पूरी तरह से रोक लगाई गई है।
  • धारा 144 का उल्लंघन करने वालो को तुरंत गिरफ्तार करने के आदेश दिए।

बनाई गई अस्थायी जेल

किसान आंदोलन को देखते हुए हरियाणा में चौधरी दलबीर सिंह इंडोर स्टेडियम और डबवाली के गुरु गोविंद सिंह स्टेडियम को अस्थायी जेल बना दिया गया है। साथ ही अंबाला के पास शंभू बॉर्डर पर पंजाब की सीमा सील कर दी गई है। जींद और फतेहाबाद में पुलिस और प्रशासन हाई अलर्ट पर हैं। उपद्रव के दौरान अगर किसी को गिरफ्तार किया जाता है तो उसे इन जेल में शिफ्ट किया जाएगा।

इंटरनेट बंद

किसानों के द्वारा किए जा रहे प्रदर्शन को देखते हुए हरियाणा में सोशल मीडिया पर कड़ी नजर रखी जा रही है। फतेहाबाद, सिरसा, अंबाला, कुरुक्षेत्र, कैथल, जींद, हिसार और डबवाली में इंटरनेट भी बंद कर दिया गया है। इतना ही नहीं बल्कि गलत अफवाह फैलाने वालों को भी चेतावनी दी है।

यह भी पढ़ें:

Farmer’s Protest In Delhi: ट्रकों की नो एंट्री, कंटीले तारों की बैरिकेडिंग, किसानों का दिल्ली कूच आज

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here