ब्रिटेन की Queen Elizabeth II के निधन पर भारत में एक दिन का राष्ट्रीय शोक, महारानी के सम्मान में 54 देशों का आधा झुकेगा झंडा

Queen Elizabeth II के निधन पर भारत में एक दिन का राष्ट्रीय शोक है। इसी को लेकर देश के तमाम सरकारी दफ्तरों, भवनों पर नियमित फहराए जाने वाले तिरंगे को आधा झुका दिया गया है।

0
74
विक्टोरिया मेमोरियल
विक्टोरिया मेमोरियल

Queen Elizabeth II: दुनिया के कई देशों में महारानी एलिजाबेथ द्वितीय के निधन पर शोक व्यक्त किया जा रहा है! इस दौरान रविवार को भारत में भी ब्रिटेन की महारानी एलिजाबेथ द्वितीय के निधन पर राष्ट्रीय शोक (state mourning in India) है। मालूम हो कि महारानी एलिजाबेथ द्वितीय का निधन 96 साल की उम्र में 8 सितंबर 2022 को हुआ था। वे ब्रिटेन की सबसे लंबे समय तक महारानी रहीं। उन्होंने 70 सालों तक ब्रिटेन पर महारानी के रूप में शासन किया। वहीं, इस बीच महारानी ने 3 बार 1961, 1983 और 1997 में भारत का दौरा किया। महारानी के सम्मान में रविवार को भारत में राष्ट्रीय शोक है। सोशल मीडिया पर भी लोग शोक व्यक्त कर रहे हैं।

Queen Elizabeth II
Queen Elizabeth II

Queen Elizabeth II के सम्मान में आधा झुका तिरंगा

महारानी एलिजाबेथ द्वितीय के निधन पर भारत में एक दिन का राष्ट्रीय शोक है। इसी को लेकर देश के तमाम सरकारी दफ्तरों, भवनों पर नियमित फहराए जाने वाले तिरंगे को आधा झुका दिया गया है। मालूम हो कि जब भी भारत में राष्ट्रीय शोक होता है, तो राष्ट्रीय झंडे को आधा झुका दिया जाता है। वहीं, इस बीच न्यूज एजेंसी ANI ने भारतीय वायु सेना मुख्यालय, विदेश मंत्रालय और राष्ट्रीय संग्रहालय की तस्वीर साझा की है, जिनके भवनों पर शोक में राष्ट्रीय ध्वज को आधा झुकाया गया है।

54 राष्ट्रमंडल देशों का झुकेगा झंडा

महारानी एलिजाबेथ द्वितीय के निधन पर जहां भारत में एक दिन का राष्ट्रीय शोक है। वहीं, इसके साथ ही कुल 54 राष्ट्रमंडल देशों में भी शोक की बात कही जा रही है। राष्ट्रमंडल देशों का मतलब यह है कि वे देश जो कभी न कभी ब्रिटेन के शासन के अधीन रहे हों या फिर जिन देशों पर ब्रिटिश शासन रहा हो, वे सभी राष्ट्रमंडल देश कहे जाते हैं। राष्ट्रमंडल (कॉमनवेल्थ ऑफ नेशंस) 54 देशों का एक वैश्विक संगठन है। इन देशों में भारत के अलावा पड़ोसी देश बांग्लादेश, पाकिस्तान, श्रीलंका के साथ मालदीव, सिंगापुर समेत कई अमेरिकी, अफ्रीकी और यूरोपीय देश भी शामिल हैं। इन सभी देशों में भी महारानी एलिजाबेथ द्वितीय के निधन पर राष्ट्रीय शोक रहेगा।

यह भी पढ़ें:

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here