Independence Day 2022: पीएम मोदी ने लाल किले से देश को किया संबोधित, पढ़ें प्रधानमंत्री के भाषण की बड़ी बातें

पीएम मोदी ने कहा कि भ्रष्टाचार देश को दीमक की तरह खोखला कर रहा है, उससे देश को लड़ना ही होगा। हमारी मारी कोशिश है कि जिन्होंने देश को लूटा है, उनको लौटाना भी पड़े, हम इसकी कोशिश कर रहे हैं।

0
118
Independence Day 2022
Independence Day 2022: पीएम मोदी ने लाल किले से देश को किया संबेधित, प्रधानमंत्री मोदी के भाषण की 10 बड़ी बातें

Independence Day 2022: देश आज अपना 76वां स्वतंत्रता दिवस मना रहा है। इस मौके पर पूरे देश में अलग अलग स्थानों पर कार्यक्रमों का आयोजन किया जा रहा है। इस मौके पर पीएम मोदी ने लाल किले पर राष्ट्रध्वज फहराया और देश को संबोधित किया। इस दौरान पीएम मोदी ने परिवादी राजनीति पर तंज कसते हुए कहा कि हमें भाई भतीजावाद खत्म करना होगा। पीएम मोदी ने कहा, मैं जब परिवारवाद की बात करता हूं तो लोगों को लगता है कि सिर्फ राजनीति की बात करता हूं। लेकिन ऐसा नहीं है, मैं जब परिवारवाद की बात करता हूं, तो यह सभी क्षेत्रों की बात होती है। पीएम मोदी ने युवाओं से अपील की, कि मै भाई-भतीजावाद के खिलाफ जंग में युवाओं का साथ चाहता हूं।

Independence Day 2022

Independence Day 2022: भ्रष्टाचार देश को दीमक की तरह खोखला कर रहा है- पीएम मोदी

पीएम मोदी ने कहा कि भ्रष्टाचार देश को दीमक की तरह खोखला कर रहा है, उससे देश को लड़ना ही होगा। हमारी कोशिश है कि जिन्होंने देश को लूटा है, उनको लौटाना भी पड़े, हम इसकी कोशिश कर रहे हैं।

Independence Day 2022

सेना के जवानों का हृदय से अभिनंदन करना चाहता हूं- पीएम मोदी

देश को संबोधित करते हुए पीएम मोदी बोले कि आज देश की सेना के जवानों का हृदय से अभिनंदन करना चाहता हूं। मेरी आत्मनिर्भर की बात को संगठित स्वरूप में, साहस के स्वरूप में, सेना के जवानों और सेनानायकों ने जिस जिम्मेदारी के साथ कंधे पर उठाया, उनको आज मैं सैल्यूट करता हूं।

भाई -भतीजदावाद पर पीएम मोदी ने कसा तंज

जब मैं भाई-भतीजावाद और परिवारवाद की बात करता हूं, तो लोगों को लगता है कि मैं सिर्फ राजनीति की बात कर रहा हूं। जी नहीं, दुर्भाग्य से राजनीतिक क्षेत्र की उस बुराई ने हिंदुस्तान के हर संस्थान में परिवारवाद को पोषित कर दिया है।

स्पेस और समंदर की गहराई में ही हमारे भविष्य के लिए जरूरी समाधान है – पीएम मोदी

अपने संबेधन में पीएम मोदी ने कहा कि हमारा प्रयास है कि देश के युवाओं को असीम अंतरिक्ष से लेकर समंदर की गहराई तक रिसर्च के लिए भरपूर मदद मिले। इसलिए हम स्पेस मिशन का, Deep Ocean Mission का विस्तार कर रहे हैं। स्पेस और समंदर की गहराई में ही हमारे भविष्य के लिए जरूरी समाधान है।

आत्मनिर्भर भारत सरकारी एजेंडा या सरकारी कार्यक्रम नहीं है- पीएम

आत्मनिर्भर भारत को लेकर पीएम मोदी ने कहा कि आत्मनिर्भर भारत, ये हर नागरिक का, हर सरकार का, समाज की हर एक इकाई का दायित्व बन जाता है। आत्मनिर्भर भारत, ये सरकारी एजेंडा या सरकारी कार्यक्रम नहीं है। ये समाज का जनआंदोलन है, जिसे हमें आगे बढ़ाना है।

पर्यावरण पर बोले पीएम

आज विश्व पर्यावरण की समस्या से जो जूझ रहा है। ग्लोबल वार्मिंग की समस्याओं के समाधान का रास्ता हमारे पास है। इसके लिए हमारे पास वो विरासत है, जो हमारे पूर्वजों ने हमें दी है।

हम लोग जीव में शिव देखते हैं – पीएम

इस दौरान पीएम मोदी ने कहा कि हम वो लोग हैं, जो जीव में शिव देखते हैं, हम वो लोग हैं, जो नर में नारायण देखते हैं, हम वो लोग हैं, जो नारी को नारायणी कहते हैं, हम वो लोग हैं, जो पौधे में परमात्मा देखते हैं, हम वो लोग हैं, जो नदी को मां मानते हैं, हम वो लोग हैं, जो कंकड़-कंकड़ में शंकर देखते हैं।

मेरा 130 करोड़ देशवासियों पर भरोसा है – पीएम

प्रधानमंत्री मोदी बोले कि ये ठीक है कि चुनौतियां बहुत हैं। अगर इस देश के सामने करोड़ों संकट हैं, तो इतने ही समाधान भी हैं। मेरा 130 करोड़ देशवासियों पर भरोसा है। निर्धारित लक्ष्य के साथ, संकल्प के प्रति समर्पण के साथ जब 130 करोड़ देशवासी आगे बढ़ते हैं, तो हिंदुस्तान 130 कदम आगे बढ़ जाता है।

पीएम ने दिया नया नारा

पीएम मोदी ने नया नारा देते हुए कहा कि जय जवान, जय किसान का लाल बहादुर शास्त्री जी का मंत्र आज भी देश के लिए प्रेरणा है। अटल जी ने जय विज्ञान कह कर उसमें एक कड़ी जोड़ दी थी। लेकिन अब अमृत काल के लिए एक और अनिवार्यता है, वो है जय अनुसंधान। जय जवान, जय किसान, जय विज्ञान, जय अनुसंधान।

संबंधित खबरें…

Independence Day 2022 Special: आखिरी सांस भी कर दी देश के नाम… पढ़ें इन युद्धवीरों की कहानी

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here