होम देश Vijay Rupani resigns: 2 बजे होगी BJP विधायक दल की बैठक, Hardik...

Vijay Rupani resigns: 2 बजे होगी BJP विधायक दल की बैठक, Hardik Patel ने कहा, “RSS-BJP के गुप्त सर्वे में Congress जीत रही थी”

विजय रूपाणी (Vijay Rupani) ने 11 सितंबर शनिवार की शाम को मुख्यमंत्री पद से इस्तीफा दे दिया है। रूपाणी के इस्तीफे का कारण अभी तक सामने नहीं आया है। बीजेपी (BJP) गुजरात (Gujrat) की गद्दी किसे सौंपेगी इस पर अभी कुछ साफ साफ कहा नहीं जा सकता है लेकिन सीएम की रेस में पांच नाम सामने आए हैं।

रेस में पांच नाम

पहला नाम गुजरात के उपमुख्यमंत्री नितिन पटेल (Deputy Chief Minister Nitin Patel) का है। उसके बाद मनसुख मांडविया (Mansukh Mandaviya), केंद्रीय मत्स्यपालन, पशुपालन, डेयरी मंत्री पुरुषोत्तम रुपाला (Parshottam Rupala), प्रफुल्ल पटेल (Praful Patel), सी. आर. पाटिल (C. R. Patil) और गोरधन झडफिया (Gordhan Zadafia) का नाम शामिल है।

आज 2 बजे बीजेपी विधायक दल की बैठक भी होने वाली है। इसी बैठक में नए सीएम का चेहरा साफ हो पाएगा। वहीं रूपाणी के इस्तीफे के बाद प्रह्लाद जोशी (Pralhad Joshi) पर्यवेक्षक के तौर पर गुजरात जाएंगे। बात रूपाणी के इस्तीफे तक ही सीमित नहीं है। सूत्रों का कहना है कि, विजय रूपाणी की छुट्टी के बाद गुजरात कैबिनेट में बड़ा उलटफेर हो सकता है।

कांग्रेसियों ने बोला हमला

सूत्रों का कहना है कि, आने वाले चुनाव के लिए बीजेपी गुजरात में चुनावी मैदान तैयार करने के लिए कोई कसर नहीं छोड़ना चाहती है। मुख्यमंत्री से लेकर सीएम के करीबियों की छुट्टी हो सकती है।

गुजरात, उत्तराखंड और कर्नाटक भारतीय जनता पार्टी के लिए प्रयोगशाल बन गया है। राज्य से मुख्यमंत्रियों के इस्तीफे के बाद विपक्षी दल कांग्रेस, भारतीय जनता पार्टी पर हमलावर है। कांग्रेस नेता रणदीप सुरजेवाला ने पीएम मोदी पर ट्वीट कर हमला बोला है। उन्होंने ट्वीट कर लिखा, “6 महीने में 5 मुख्यमंत्री बदले। वाह मोदी जी ! जनता को बेवक़ूफ़ बनाने का नायाब नुस्ख़ा”

गुजरात की राजनीति में सक्रिय रहने वाले कांग्रेस नेता हार्दिक पटेल (Hardik Patel) ने भी हमला बोलने का मौका नहीं छोड़ा। उन्होंने यह तक कह दिया कि, बीजेपी (BJP) और आरएसएस (RSS) के गुप्त सर्व में कांग्रेस जीत रही थी इसिलए विजय रूपाणी को छुट्टी पर भेज दिया गया।

पटेल ने ट्वीट कर लिखा,अगस्त में आरएसएस और भाजपा का गुप्त सर्वे चौंकाने वाला था। कांग्रेस को 43% वोट और 96-100 सीट, भाजपा को 38% वोट और 80-84 सीट, आप को 3% वोट और 0 सीट, मीम को 1% वोट और 0 सीट और सभी निर्दलीय को 15% वोट और 4 सीट मिल रही थी।

Vijay Rupani की विफलता

कोरोना काल को लेकर विजय रुपाणी के नेतृत्व वाली सरकार सवालों के घेरों में रही है। वहीं राज्य में आम आदमी पार्टी नेे भी अपनी पकड़ को मजबूत किया है। कांग्रेस के सामने भी बीजेपी कमोजर पड़ रही थी। राज्य में कांग्रेस के कार्यकर्ता सक्रिय हो गए हैं लगातार रुपाणी के खिलाफ मुद्दे उठाते रहते हैं।

राज्य में अधिकतर समय बीजेपी की सरकार रही है। पार्टी अपने रिकॉर्ड को बनाए रखने के लिए किसी दमदार चेहरे को गुजरात के लिए तलाश रही है। कहा जा रहा है कि,रुपाणी का नाम लगातार विफलता में गिना जा रहा था। चाहे वो कोरोना काल हो या फिर कांग्रेस से मुकाबले की।

1995 से बीजेपी गुजरात में कर रही है राज

गुजरात में साल 1995 से ही बीजेपी की सरकार रही है। पीएम मोदी ने 7 अक्तूबर 2001 से लेकर 22 मई 2014 तक गुजरात के सीएम के तौर पर काम किया है। गुजरात की जनता पीएम मोदी के अलावा कमतर ही किसी अन्य चेहरे को स्वीकार करती है।

साल 2022 में पांच राज्यों में विधानसभा चुनाव होने वाला है। जिसमें गुजरात, पंजाब, उत्तराखंड, उत्तर प्रदेश और गोवा शामिल है। पार्टी किसी भी भी किमत पर राज्य में अच्छा प्रदर्शन करना चाहती है। पार्टी उत्तराखंड में भी दो सीएम बदल चुकी है। वहीं कर्नाटक में सीएम येदियुरप्पा को अपना पद त्यागना पड़ा था। राज्य में बीजेपी बड़ा उलटफेर कर रही है।

यह भी पढ़ें:

Vijay Rupani resigns: विजय रुपाणी ने राज्यपाल Acharya Devvrat को सौंपा त्याग पत्र, राज्य की जनता का किया धन्यवाद

विजय रूपाणी सरकार ने फल का किया नामकरण, ड्रैगन फ्रूट से हुआ कमलम

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Most Popular

Allahabad HC:प्रस्तावित राम वन गमन मार्ग को संशोधित करने की मांग में याचिका दाखिल, कोर्ट ने की खारिज

कोर्ट ने कहा सरकार ने निर्माण योजना तैयार करने से पहले रिसर्च किया होगा।

Cannes 2022: कांस के दूसरे दिन इन अभिनेत्रियों ने लगाई रेड कार्पेट पर आग, लुक देख मदहोश हुए फैंस

Cannes 2022: ’75वें कांस फिल्म फेस्टिवल’ की चर्चा पूरे विश्व में है। इस इवेंट में एक से बढ़कर एक अभिनेत्रियां अपना अपना जलवा बिखेरती नजर आई हैं।

Supreme Court: रोड रेज मामले में सिद्धू को बड़ा झटका, SC ने एक साल सश्रम कारावास की सजा सुनाई

रोड रेज का ये मामला 1988 का है।मालूम हो कि नवजोत सिंह सिद्धू को पहले इस मामले में राहत मिल गई थी. लेकिन रोड रेज
00:25:14

NATO: फिनलैंड-स्वीडन NATO में होंगे शामिल, रूस की टेंशन और ज्यादा बढ़ी

NATO: नाटो में शामिल होने को लेकर रूस फ‍िनलैंड को पहले ही आगाह कर चुका है।

एपीएन विशेष

00:25:14

NATO: फिनलैंड-स्वीडन NATO में होंगे शामिल, रूस की टेंशन और ज्यादा बढ़ी

NATO: नाटो में शामिल होने को लेकर रूस फ‍िनलैंड को पहले ही आगाह कर चुका है।
00:04:45

Spirulina Farming: शुरू करें स्पिरुलिना की खेती, मेहनत है कम, मुनाफा है ज्‍यादा

Spirulina Farming: शैवाल यानी स्पिरुलिना (Spirulina) एक जलीय वनस्पति है, जो औषधीय गुणों से भरपूर है।
00:02:53

Azam Khan Hearing: आजम खान के वकील का यूपी सरकार पर आरोप, राजनीतिक द्वेष के चलते ले रहे बदला

Azam Khan Hearing: आजम खान पर सर्वोच्च अदालत ने फैसला सुरक्षित रख लिया है।
00:03:24

Gyanvapi Masjid Survey: ज्ञानवापी सर्वे मामले पर बनारस कोर्ट ने कही अहम बातें

Gyanvapi Masjid Survey: ज्ञानवापी मस्जिद सर्वे मामले में बनारस कोर्ट ने आदेश देते हुए कहा है कि जिस जगह शिवलिंग मिला है, उस स्थान को सील किया जाए।
afp footer code starts here