PFI Protests: NIA की छापेमारी के बाद पीएफआई ने केरल में एक दिवसीय राज्यव्यापी हड़ताल का किया ऐलान

पीएफआई के संगठनों के द्वारा बताया गया कि तिरुवनंतपुरम, कोल्लम, कोट्टयम, एर्नाकुलम और त्रिशूर समेत लगभग सभी जिलों में प्रदर्शन किए गए। सूत्र ने बताया कि छापे राज्य और जिला समितियों के कार्यालय और उनके पदाधिकारियों के आवास पर मारे गए। उन्होंने बताया कि शुरुआत में हमें लगा कि प्रवर्तन निदेशालय ने छापे मारे हैं।

0
42
PFI Protest
PFI Protests: NIA की छापेमारी के बाद पीएफआई ने केरल में एक दिवसीय राज्यव्यापी हड़ताल का किया ऐलान

PFI Protests: देश भर में छापेमारी से परेशान पॉपुलर फ्रंट ऑफ इंडिया (PFI) ने शुक्रवार को केरल में हड़ताल का ऐलान किया है। पीएफआई ने शुक्रवार सुबह 6 बजे से शाम 6 बजे तक 12 घंटे के हड़ताल की घोषणा की है। वहीं, पूरे तमिलनाडु में विरोध मार्च की योजना बनाई जा रही है। दरअसल, राष्ट्रीय जांच एजेंसी (NIA) और प्रवर्तन निदेशालय (ED) ने पूरे देश में कई जगहों पर छापेमारी की है। एनआईए के सूत्रों के हवालों से जानकारी मिली है कि देशभर में छापेमारी के बाद पॉपुलर फ्रंट के सौ से अधिक नेताओं को हिरासत में लिया गया है। इनमें संगठन केा राष्ट्रीय अध्यक्ष ओएमए सलाम और महासचिव नसीरुद्दीन एलमारम भी शामिल हैं।

जानकारी के मुताबिक, छापेमारी कुछ आपत्तिजनक दस्तावेजों के आधार पर की जा रही है। जो एजेंसी को आतंकी फंडिंग की जांच के दौरान मिले है। केरल और कर्नाटक में संगठन पर हत्याओं का आरोप है। राज्य के पलक्कड़ और कोल्लम जिलों में पॉपुलर फ्रंट के कार्यकर्ताओं की ओर से आरएसएस के तीन नेताओं संजीत, अधिवक्ता रंजीत और श्रीनिवासन की हत्या कर दी गई थी।

PFI Protests
PFI Protests: देश भर में सुबह-सुबह छापेमारी से हैरान पॉपुलर फ्रंट ऑफ इंडिया (PFI) ने शुक्रवार को केरल में हड़ताल

जिसमें कर्नाटक राज्य के शिवमोगा में पीएफआई कार्यकर्ताओं की ओर से एक हिंदू मुन्नानी और बजरंग दल कार्यकर्ता हर्ष की हत्या कर दी थी। इन लोगों की हत्याओं के बाद की गई छापेमारी के दौरान कई दस्तावेज जब्त किए गए थे।

एनआईए से मिली जानकारी के अनुसार, जब्त दस्तावेजों में पॉपुलर फ्रंट ने आरएसएस और अन्य हिंदू कार्यकर्ताओं की एक लिस्ट तैयार की थी। जिन्हें मारा जाना था। एनआईए और ईडी के छापे इन हत्याओं से संबंधित हैं। साथ ही, फंडिंग का संकेत देने वाले दस्तावेज भी शामिल हैं। एक पॉपुलर फ्रंट कार्यकर्ता नासिर को पहले केरल के एनार्कुलम से हिरासत में लिया गया था। उसने अधिकारियों के सामने पॉपुलर फ्रंट ऑफ इंडिया के फंडिंग मोडस ऑपरेंडी के बारे में खुलासा किया।

download 67
PFI Protests

PFI Protests: कार्यकर्ताओं ने किया विरोध प्रदर्शन

बता दें कि पॉपुलर फ्रंट ऑफ इंडिया ने एनआईए की अगुवाई में कई एजेंसियों की ओर से उनके कार्यालयों, नेताओं के घरों और अन्य परिसर में छापे मारने के विरोध में गुरुवार को केरल में प्रदर्शन किया गया। छापेमारी की खबर मिलने के बाद की पीएफआई कार्यकर्ताओं ने उन स्थानों की ओर मार्च निकाला जहां छापे मारे गए और केंद्र तथा उसकी जांच एजेंसियों के खिलाफ नारे लगाए। इस बीच ऐसे सभी स्थानों पर पहले ही केंद्रीय बलों की तैनाती की गई थी।

download 1 4
PFI Protests

PFI Protests: केरल के इन जिलों में किया गया प्रदर्शन

पीएफआई के संगठनों के द्वारा बताया गया कि तिरुवनंतपुरम, कोल्लम, कोट्टयम, एर्नाकुलम और त्रिशूर समेत लगभग सभी जिलों में प्रदर्शन किए गए। सूत्र ने बताया कि छापे राज्य और जिला समितियों के कार्यालय और उनके पदाधिकारियों के आवास पर मारे गए। उन्होंने बताया कि शुरुआत में हमें लगा कि प्रवर्तन निदेशालय ने छापे मारे हैं। लेकिन, यह स्पष्ट हो गया है कि यह एनआईए की कार्रवाई है।

संबंधित खबरें…

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here