होम देश RSS Chief Mohan Bhagwat ने कहा, पहले सावरकर को बदनाम किया गया,...

RSS Chief Mohan Bhagwat ने कहा, पहले सावरकर को बदनाम किया गया, अब स्वामी विवेकानंद, दयानंद सरस्वती और श्रीअरविंद का नंबर है

RSS Chief Mohan Bhagwat ने विनायक दामोदर सावरकर यानी वीर सावरकर पर लिखी एक पुस्तक के विमोचन कार्यक्रम में कहा कि स्वतंत्रता के बाद बदली हुई परिस्थितियों में वीर सावरकर को बदनाम करने के लिए, उनकी प्रतिष्ठा को धूमिल करने के लिए बहुत से प्रयास किये गये। ऐसा इसलिए क्योंकि उनके राष्ट्रवाद की अवधारणा को समझा ही नहीं गया या उसे समझने से जनमानस को रोका गया।

सावरकर के बाद अब स्वामी विवेकानंद, स्वामी दयानंद सरस्वती और श्रीअरविंद को भी बदनाम करने की साजिश होगी क्योंकि वीर सावरकर इन तीनों महापुरूषों के विचारों से प्रभावित थे। आरएसएस प्रमुख ने कहा कि आज के माहौल में सावरकर जी का हिन्दुत्व, विवेकानंद का हिन्दुत्व बोला जाता है और यह एक फैशन जैसा हो गया है, जबकि हिन्दुत्व एक है। हिंदुत्व पहले से है और अंत तक उसका स्वरूप एक ही रहेगा।

हमारी पूजा विधि अलग है लेकिन पूर्वज एक हैं

संघ प्रमुख ने अल्पसंख्यक औऱ खासकर मुस्लिमों की सुरक्षा औऱ प्रतिष्ठा पर बोलते हुए कहा कि जो विभाजन के बाद भारत छोड़कर पाकिस्तान गए उन मुसलमानों की प्रतिष्ठा मुस्लिम राष्ट्र पाकिस्तान में भी वैसी नहीं है। दरअसल जो भारत का है, वो भारत का ही है। इसमें कोई संशय नहीं होना चाहिए।

भागवत ने कहा कि हमारी पूजा विधि अलग-अलग हो सकती है, लेकिन हमारे पूर्वज तो एक ही हैं। बंटवारे के बाद जो भी भारत छोड़कर पाकिस्तान गये क्या उन्हें वहां वो प्रतिष्ठा कभी नहीं मिली। हमारा हिंदुत्व वही है, जो सत्या है, सनातन है। वीर सावरकर ने स्पष्ट कहा है और इसमें कहीं से कोई दोराय नहीं होनी चाहिए कि किसी का तुष्टिकरण नहीं होना चाहिए।

विवाह के लिए धर्म परिवर्तन चिंता का विषय

शादी के लिए तेजी से चलन में आ रहे धर्म परिवर्तन पर नाराजगी जाहिर करते हुए आरएसएस प्रमुख ने कहा कि विवाह एक संस्था है और उस संस्था से जुड़ने के लिए आखिर कैसे कोई अपना धर्म परिवर्तन कर सकता है। केवल विवाह के लिए हिंदू लड़के और लड़कियां कैसे धर्म परिवर्तन कर सकते हैं।

ये जानकर दुख होता है कि इतने हीन स्वार्थों के लिए युवा वर्ग ऐसा कर रहा है। हमारे लिए धर्म का अर्थ ही मानवता है, धर्म संपूर्ण विश्व की एकता है। ऐसे में आखिर कैसे एक हीन स्वार्थ के लिए उसे कलंकित किया जा सकता है।

इसे भी पढ़ें: RSS प्रमुख मोहन भागवत के लिए रोकी गई थी ट्रैफिक, जज Sujay Paul को पैदल जाना पड़ा

RSS प्रमुख मोहन भागवत के साथ मंच साझा करने वाले Maulana Kalim गिरफ्तार, Conversion के मामले में हुई गिरफ्तारी

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Most Popular

Allahabad HC:प्रस्तावित राम वन गमन मार्ग को संशोधित करने की मांग में याचिका दाखिल, कोर्ट ने की खारिज

कोर्ट ने कहा सरकार ने निर्माण योजना तैयार करने से पहले रिसर्च किया होगा।

Cannes 2022: कांस के दूसरे दिन इन अभिनेत्रियों ने लगाई रेड कार्पेट पर आग, लुक देख मदहोश हुए फैंस

Cannes 2022: ’75वें कांस फिल्म फेस्टिवल’ की चर्चा पूरे विश्व में है। इस इवेंट में एक से बढ़कर एक अभिनेत्रियां अपना अपना जलवा बिखेरती नजर आई हैं।

Supreme Court: रोड रेज मामले में सिद्धू को बड़ा झटका, SC ने एक साल सश्रम कारावास की सजा सुनाई

रोड रेज का ये मामला 1988 का है।मालूम हो कि नवजोत सिंह सिद्धू को पहले इस मामले में राहत मिल गई थी. लेकिन रोड रेज
00:25:14

NATO: फिनलैंड-स्वीडन NATO में होंगे शामिल, रूस की टेंशन और ज्यादा बढ़ी

NATO: नाटो में शामिल होने को लेकर रूस फ‍िनलैंड को पहले ही आगाह कर चुका है।

एपीएन विशेष

00:25:14

NATO: फिनलैंड-स्वीडन NATO में होंगे शामिल, रूस की टेंशन और ज्यादा बढ़ी

NATO: नाटो में शामिल होने को लेकर रूस फ‍िनलैंड को पहले ही आगाह कर चुका है।
00:04:45

Spirulina Farming: शुरू करें स्पिरुलिना की खेती, मेहनत है कम, मुनाफा है ज्‍यादा

Spirulina Farming: शैवाल यानी स्पिरुलिना (Spirulina) एक जलीय वनस्पति है, जो औषधीय गुणों से भरपूर है।
00:02:53

Azam Khan Hearing: आजम खान के वकील का यूपी सरकार पर आरोप, राजनीतिक द्वेष के चलते ले रहे बदला

Azam Khan Hearing: आजम खान पर सर्वोच्च अदालत ने फैसला सुरक्षित रख लिया है।
00:03:24

Gyanvapi Masjid Survey: ज्ञानवापी सर्वे मामले पर बनारस कोर्ट ने कही अहम बातें

Gyanvapi Masjid Survey: ज्ञानवापी मस्जिद सर्वे मामले में बनारस कोर्ट ने आदेश देते हुए कहा है कि जिस जगह शिवलिंग मिला है, उस स्थान को सील किया जाए।
afp footer code starts here