मन की बात बता देने का दावा करने वाले ‘अनोखे बाबा’, जानें Bageshwar Dham Sarkar को लेकर क्यों बढ़ रहा है विवाद?

मीडिया से बात करते हुए धीरेंद्र शास्त्री ने कहा, "मैं किसी से नहीं डरता, हिंदू शेर है भगोड़े नहीं हैं।' इतना ही नहीं उन्होंने यह भी कहा कि यहां तो लोगों ने भगवान राम को नहीं छोड़ा है उनपर भी सवाल उठाए हैं।

0
41
Bageshwar Dham Sarkar
Bageshwar Dham Sarkar

Bageshwar Dham Sarkar: क्या आप किसी का चेहरा देखकर उसका मन पढ़ सकते हैं? आप सामने वाले के बारे में क्या सोचते हैं, क्या यह बता पाना संभव है कि उसकी जमीन क्या है? कुछ दिन से देशभर में एक संत खूब सुर्खियां बटोर रहे हैं। यह दावा किया जाता है कि वह मन पढ़ सकते हैं और सच बोल सकते हैं। इस स्वयंभू बाबा का नाम धीरेंद्रकृष्ण शास्त्री है। बाबा धीरेंद्र बागेश्वर धाम के संत हैं। वह सामान्य तरीके से भाषण दे रहे हैं। अपना भविष्य जानने के लिए हजारों लोग उनके पास जाते हैं।

Bageshwar Dham Sarkar के दरबार में आते हैं बड़े-बड़े नेता-अभिनेता

बाबा बागेश्वर के नाम से मशहूर इस संत के पास बड़े-बड़े नेता, अभिनेता और उद्योगपति आते हैं और उनका आशीर्वाद लेते हैं। हालांकि, कुछ संगठनों ने यह कहते हुए उनके खिलाफ पुलिस से शिकायत कि की वह अंधविश्वास का प्रचार कर रहे हैं। अब संत के इस चमत्कार को लेकर विवाद बढ़ता ही जा रहा है। इस बीच बीजेपी के वरिष्ठ नेता कैलाश विजयबर्गिया ने भी प्रतिक्रिया दी है। कैलाश विजयबर्गिया ने कहा कि हिंदू संत पर लगाए गए आरोप झूठे हैं।

बता दें कि बाबा ने अपनी ताकत का सीधा सबूत दिया है। उन्होंने लाइव डेमो के जरिए अपनी शक्ति का प्रदर्शन किया है। जब बाबा का दरबार बैठा तो उन्होंने उपस्थित लोगों को खुला आह्वान किया। दर्शकों में मौजूद एक पत्रकार धीरेंद्र कृष्ण ने चुनौती स्वीकार करते हुए परीक्षा दी। एक पत्रकार ने बाबा को उसके बारे में बात करने के लिए बुलाया। इस कॉल को स्वीकार करते हुए पत्रकार की पहचान सार्वजनिक कर दी गई।

Bageshwar Dham Sarkar
Bageshwar Dham Sarkar

बाबा ने क्या कहा?

मीडिया से बात करते हुए धीरेंद्र शास्त्री ने कहा, “मैं किसी से नहीं डरता, हिंदू शेर है भगोड़े नहीं हैं।’ इतना ही नहीं उन्होंने यह भी कहा कि यहां तो लोगों ने भगवान राम को नहीं छोड़ा है उनपर भी सवाल उठाए हैं। भगवान राम से उनके होने के लिए सबूत मांगा गया है। हम तो आम इंसान हैं, हमें कब छोड़ेंगे।” बता दें कि महाराष्ट्र की संस्था अंध श्रद्धा उन्मूलन समिति के श्याम मानव ने धीरेंद्र शास्त्री पर अंधविश्वास फैलाने का आरोप लगाया है।

कौन हैं धीरेंद्र कृष्ण शास्त्री उर्फ बागेश्वर धाम सरकार?

धीरेंद्र कृष्ण शास्त्री मध्य प्रदेश के 26 वर्षीय स्वयंभू संत हैं। वह मध्य प्रदेश के छतरपुर के बागेश्वर धाम मंदिर से जुड़े हुए हैं। धीरेंद्र कृष्ण शास्त्री के बहुत से अनुयायी हैं जो उनकी चमत्कारी शक्ति में विश्वास करते हैं। साल 1996 में जन्मे, धीरेंद्र कृष्ण शास्त्री, इसलिए भी प्रसिद्ध हो गए क्योंकि उनके अनुयायियों ने दावा किया कि वह दिमाग पढ़ सकते हैं।

यह भी पढ़ें: