आर्मी चीफ जनरल Manoj Pande बोले – जोशीमठ में लोगों को बचाएगी सेना

0
37
Army chief Manoj Pande
Army chief Manoj Pande

Joshimath Sinking: उत्तराखंड के जोशीमठ में फिलहाल हालात ठीक नहीं हैं, यहां सैकड़ों घरों में दरारें आने के बाद अब राहत बचाव का काम तेजी से किया जा रहा है। इसी बीच एलएसी की तरफ जाने वाली सड़क को लेकर भी चिंता जताई जा रही है। अब इसे लेकर थलसेना प्रमुख जनरल मनोज पांडे की तरफ से बयान सामने आया है, जिसमें उन्होंने ये साफ किया है कि एलएसी की तरफ जाने वाली सड़क को ज्यादा नुकसान नहीं पहुंचा है, इसीलिए चिंता करने की बात नहीं है। उन्होंने कहा कि हम लोगों को खतरे वाली जगह से निकालने के लिए पूरी तरह से तैयार हैं। प्रमुख मनोज पांडे ने 12 जनवरी को कहा है कि उत्तरी सीमाओं पर स्थिति स्थिर है। उन्होंने कहा कि वास्तविक नियंत्रण रेखा (LAC) पर तैनात सैनिक विरोधी के किसी भी नापाक मंसूबे को नाकामयाब करने में सक्षम हैं। सेना दिवस से पहले मीडिया को संबोधित करते हुए, उन्होंने आगे कहा कि सैनिक मेज पर मौजूद सात मुद्दों में से पांच को हल करने में सक्षम रहे हैं।

ज्यादातर राज्यों में शांति लौट आई-Manoj Pande

उन्होंने कहा, “हम टेबल पर मौजूद सात मुद्दों में से पांच को हल करने में सक्षम हैं। हम सैन्य और राजनयिक दोनों स्तरों पर बात करना जारी रखते हैं। हमारे पास किसी भी आपात स्थिति से निपटने के लिए पर्याप्त भंडार है।” पूर्वोत्तर के बारे में बोलते हुए उन्होंने कहा कि ज्यादातर राज्यों में शांति लौट आई है। उन्होंने कहा, “आर्थिक गतिविधियों और विकास की पहलों के अच्छे परिणाम मिले हैं। यह सेना दिवस विशेष है क्योंकि यह स्वतंत्रता का 75वां वर्ष भी है।”

download 2023 01 12T134056.106
Army chief Manoj Pande

“आतंकियों को सीमा पार से समर्थन”

जम्मू-कश्मीर पर अपडेट देते हुए उन्होंने कहा कि फरवरी 2021 में जिस संघर्षविराम समझौते पर सहमति बनी थी, वह सही चल रहा है। साथ ही, उन्होंने यह भी कहा कि आतंकवाद और आतंकी बुनियादी ढांचे को सीमा पार से समर्थन हालांकि बना हुआ है। उन्होंने कहा, “जहां तक जम्मू-कश्मीर की स्थिति का संबंध है, फरवरी 2021 में हुई संघर्ष विराम की समझ अच्छी तरह से चल रही है, लेकिन आतंकवाद और आतंकी ढांचे को सीमा पार से समर्थन अभी भी बना हुआ है।”

यह भी पढ़ें: