होम देश Hindi Diwas 2021: जानें 14 सितंबर को क्यों मनाया जाता हैं हिंदी...

Hindi Diwas 2021: जानें 14 सितंबर को क्यों मनाया जाता हैं हिंदी दिवस

आज के दिन 14 सितंबर (14 September) को देशभर में हिंदी दिवस मनाया जाता है। हिंदी भाषी क्षेत्रों सहित पूरे भारत के लिए यह दिन काफी खास रहता है। हिंदी दिवस के दिन ही हमें हिंदी भाषा के महत्व का पता चलता है। हिंदी क्यों जरूरी है, यह भी इसी दिन पता चलता है। 14 सितंबर 1949 को हिंदी को राजभाषा का दर्जा मिला था। उसके बाद से अब तक हर साल यह दिन ‘हिंदी दिवस’ के रूप में मनाया जाता है। इस दिन को महत्‍व के साथ याद करना इसलिए जरूरी है, क्‍योंकि अंग्रेजों से आजाद होने के बाद यह देशवासियों की स्‍वाधीनता की एक निशानी का प्रतीक भी है।

हिंदी दिवस को लेकर क्या रहा हैं इतिहास

1947 में जब भारत आजाद हुआ तब देश की राजभाषा किस भाषा को चुना जाए, यहीं सबसे बड़ा मुद्दा था। काफी विचार विमर्श के बाद हिंदी और अंग्रेजी को नए राष्ट्र की भाषा चुन लिया गया। संविधान सभा ने देवनागरी लिपी में लिखी। हिंदी को अंग्रेजी के साथ राष्ट्र की आधिकारिक भाषा के तौर पर स्वीकार किया। भारत हमेशा से विविधताओं का देश रहा है। भारत में सैकड़ों भाषाएं और बोलियां बोली जाती है।

14 सितंबर 1949 को संविधान सभा ने एक मत से निर्णय लिया था कि हिंदी भारत की राजभाषा होगी। उस समय प्रधानमंत्री जवाहरलाल नेहरू ने इस दिन के महत्व को देखते हुए हर साल 14 सितंबर को हिंदी दिवस मनाए जाने का ऐलान किया था। पर पहला हिंदी दिवस को मनाने में 4 साल लग गए। पहला हिंदी दिवस 14 सितंबर 1953 को मनाया गया था।

राजभाषा के तौर पर अंग्रेजी को हटाकर हिंदी को चुने जाने पर देश के कुछ हिस्सों में विरोध प्रर्दशन शुरू हो गया था। तमिलनाडु में जनवरी 1965 में भाषा विवाद को लेकर दंगे भी होने लगे थे। जबकि 1918 में महात्मा गांधी ने हिंदी साहित्य सम्मेलन में हिंदी भाषा को राष्ट्रभाषा बनाने की बात कही थी। गांधी जी ने ही हिंदी को जनमानस की भाषा भी कहा था।

कई स्कूल और कॉलेज में इस दिन के महत्व को प्रदर्शित करने और भाषा के बारे में जागरूकता बढ़ाने के लिए विभिन्न साहित्यिक और सांस्कृतिक कार्यक्रमों के साथ-साथ प्रतियोगिताओं का आयोजन करते हैं। भारत के राष्ट्रपति दिल्ली के विज्ञान भवन में आयोजित एक समारोह में भाषा में योगदान के लिए लोगों को सम्मानित भी करते हैं।

यह भी पढ़ें:

पहला हिंदी साप्ताहिक पत्र था “उदन्त मार्तण्ड” , सीएम योगी का ऐलान कोरोना से जान गंवाने वाले पत्रकारों को मिलेंगे 10 लाख

हिंदी दिवस के बहाने से : बोली और बोलने वाले दोनों लचीले होने चाहिए

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Most Popular

क्या है Sprirulina Farming? जिससे किसानों की बढ़ रही है आमदनी…

Sprirulina Farming: आज के दौर में जैसा खान पान हम खा रहे है, वो एक स्वस्थ इंसान के लिए पर्याप्त नहीं है । कहने का मतलब ये है कि, जिस तरह का भोजन हम खा रहे हैं

Bangladesh के दो बल्लेबाजों ने बचाई दूसरे टेस्ट में टीम की लाज, श्रीलंका के खिलाफ पूरी टीम 365 रनों पर सिमटी; 6 बल्लेबाज खोल...

Bangladesh और Sri Lanka के बीच दूसरा टेस्ट मुकाबला ढाका के शेर-ए-बांग्ला स्टेडियम में खेला जा रहा है। बांग्लादेश ने पहले बल्लेबाजी करते हुए सभी विकेट खोकर 365 रन बनाए।

Supreme Court: खनन लीज मामले में झारखंड के CM हेमंत सोरेन को कोर्ट से मिली राहत

सोरेन के खिलाफ खनन लीज को लेकर शेल कंपनियों में निवेश के मामले में झारखंड हाईकोर्ट में कार्रवाई के खिलाफ राज्य सरकार की याचिका पर सुप्रीम कोर्ट ने सुनवाई की।

Zindagi Gulzar Hai की फैंस के बीच वापसी, इंडियन टेलीविजन पर एक बार फिर हो रहा टेलीकास्ट

फैंस की भारी डिमांड के बाद पाकिस्तानी शो "Zindagi Gulzar Hai" एक बार फिर इंडियन टेलीविजन पर लौट आया है।

एपीएन विशेष

00:02:28

Barabanki: आधुनिक सुलभ शौचालय का होगा निर्माण, डिजाइन है खास

Barabanki: बाराबंकी नगर पालिका परिषद के चेयरमैन पति रंजीत बहादुर श्रीवास्तव नगर में अपनी खुद के डिजाइन का सुलभ शौचालय बनवाने जा रहे हैं।
00:02:25

Uttarakhand: शिक्षा में नई पहल, किताबों में शामिल होंगे भगवद्गीता, वेद और रामायण

Uttarakhand: उत्तराखंड की शिक्षा पद्धति में अब आने वाले समय में बदलाव की कवायद की जा रही है।
00:22:30

Monkeypox Virus: जानिए कितना खतरनाक है मंकीपॉक्स? ऐसे करें अपना बचाव

Monkeypox Virus: मंकीपॉक्स (Monkeypox virus) एक जानवरों से मनुष्यों में फैलने वाला वायरस है।
00:02:22

Hyderabad Rape Case: फर्जी था बलात्कार के आरोपियों का एनकाउंटर, आयोग की जांच रिपोर्ट में खुलासा

Hyderabad Rape Case: 2019 के चर्चित हैदराबाद एनकाउंटर पर पुलिस की कलई खुल गई है।
afp footer code starts here