होम देश Supertech Emerald के कई ठिकानों पर ईडी की छापेमारी, मनी लॉन्ड्रिंग का...

Supertech Emerald के कई ठिकानों पर ईडी की छापेमारी, मनी लॉन्ड्रिंग का है केस

सुपरटेक एमराल्ड (Supertech Emerald)  की मुश्किलें बढ़ती जा रही हैं। कोर्ट द्वारा सुपरटेक एमराल्ड  के ट्विन टावर के 40-40 मंजिला को ढहाए जाने के आदेश के बाद अब प्रवर्तन निदेशालय (Enforcement Directorate) ने कई जगहों पर छापेमारी की है। मनी लॉन्ड्रिंग केस (Money Laundering Case) में ईडी सुपरटेक के कई ठिकानों पर तलाशी कर  रही है। छापेमारी अभी भी चल रही है। सुपरटेक पर पैसों की हेरा फेरी करने का आरोप लगा है।

Supertech Emerald के अध्यक्ष के निवास पर भी छापेमारी

मिली जानकारी के अनुसार छापेमारी सिर्फ सुपरटेक के दफ्तरों पर नहीं हुई है बल्कि कंपनी के अध्यक्ष आरके अरोड़ा के घर पर भी हुई है। सूत्रों के अनुसार ईडी ने ट्विन टावरों (Twin Towers) के कथित अवैध निर्माण से संबंधित एक मामले में अरोड़ा के खिलाफ मनी लॉन्ड्रिंग जांच की प्रक्रिया शुरू कर दी है। यही कारण है कि ईडी घर से लेकर दफ्तर पर छापोमारी कर रही है।

बुधवार को प्रवर्तन निदेशालय ने बुधवार को सुपरटेक के कार्यालयों और उसके अध्यक्ष आरके अरोड़ा के आवास के कई स्थानों पर तलाशी ली। सूत्रों के अनुसार, ईडी ने नोएडा में नोएडा प्राधिकरण के भ्रष्ट अधिकारियों की मिलीभगत से ट्विन के कथित अवैध निर्माण से संबंधित एक मामले में सुपरटेक और उसके अध्यक्ष आर के अरोड़ा के खिलाफ मनी लॉन्ड्रिंग जांच की प्रक्रिया शुरू कर दी है।

कोर्ट ने टावर को गिराए जाने का दिया है आदेश

बता दें कि 31 अगस्त को सुपरटेक एमराल्ड केस में Supreme Court ने बड़ा आदेश दिया था। कोर्ट ने कहा था कि Supertech के ट्विन टॉर्वस को गिराया जाएंगे। गिराए जाने वाले दोनों ही टावर 40-40 मंजिला हैं। कोर्ट ने आदेश देते हुए कहा था कि, यह टॉवर नोएडा अथॉरिटी (Noida Authority) और सुपरटेक की मिलीभगत से बने थे। रियल स्टेट (Real Estate) कंपनी सुपरटेक को बड़ा झटका देते हुए कोर्ट ने कहा था कि तीन माह के भीतर कंपनी खुद के पैसों से दोनों ही टॉवर को तोड़े।

बता दें कि साल 2014 में इलाहाबाद हाईकोर्ट ने भी इन टॉवर्स को गिराने का निर्देश दिया था, जिसे अब सुप्रीम कोर्ट ने भी सही माना था।

सुप्रीम कोर्ट में जस्टिस डीवाई चंद्रचूड़, जस्टिस एमआर शाह ने मामले की सुवाई करते हुए कहा कि था, जिन लोगों ने भी सुपरटेक ट्विन टॉवर में फ्लैट्स लिए हैं। उन्हें 12 फीसदी ब्याज के साथ रकम वापस की जाएगी। कोर्ट में कहा गया था कि टॉवर्स को तोड़ते वक्त अन्य बिल्डिंग्स को नुकसान नहीं पहुंचना चाहिए।

यह भी पढ़ें:

Supertech Emerald को SC से बड़ा झटका, 40 मंजिला दो टॉवर को कोर्ट ने गिराने का दिया आदेश

Supertech Emerald Case: ट्विन टावर को ढहाने के आदेश के खिलाफ सुप्रीम कोर्ट में सुपरटेक एमराल्ड ने कहा, बस एक टावर ही गिराएं

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Most Popular

IPL 2022: Punjab kings ने जीत के साथ ली विदाई, लिविंगस्टोन के आंधी में उड़ी सनराइजर्स हैदराबाद

IPL 2022 के 70वें मुकाबले और आखिरी लीग मैच में Punjab Kings ने Sunrisers Hyderabad को हराकर जीत के साथ इस सीजन से विदाई ली है।

APN News Live Updates: अशोक गहलोत बोले- पेट्रोल-डीजल पर एक्साइज कम हुआ तो तेल कंपनियों ने बढ़ा दिए दाम, पढें 22 मई की...

APN News Live Updates: गुजरात के गांधीनगर के एक फार्मा कंपनी में आग लगने के चलते, 10 दमकलकर्मी आग बुझाने में जुटे हुए हैं।

PM Modi Japan Visit: रात में यात्रा, दिन में कारोबार; जानें पीएम के जापान दौरे के बारे में सबकुछ

PM Modi Japan Visit: जापानी प्रधानमंत्री फुमियो किशिदा के निमंत्रण पर क्वाड शिखर सम्मेलन में भाग लेने के लिए पीएम मोदी आज रात जापान के लिए रवाना होंगे।

IPL 2022: Sunrisers Hyderabad ने टॉस जीतकर पहले बल्लेबाजी का फैसला किया, जीत के साथ सफर को समाप्त करना चाहेगी दोनों टीम

IPL 2022 का 70वां मुकाबला Sunrisers Hyderabad और Punjab Kings के बीच खेला जा रहा है। इन दोनों टीमों के बीच इस सीजन का आखिरी लीग मुकाबला है।

एपीएन विशेष

00:22:30

Monkeypox Virus: जानिए कितना खतरनाक है मंकीपॉक्स? ऐसे करें अपना बचाव

Monkeypox Virus: मंकीपॉक्स (Monkeypox virus) एक जानवरों से मनुष्यों में फैलने वाला वायरस है।
00:02:22

Hyderabad Rape Case: फर्जी था बलात्कार के आरोपियों का एनकाउंटर, आयोग की जांच रिपोर्ट में खुलासा

Hyderabad Rape Case: 2019 के चर्चित हैदराबाद एनकाउंटर पर पुलिस की कलई खुल गई है।
00:23:18

Wheat Export In India: सरकार का ‘गेहूं निर्यात पर प्रतिबंध’ फैसला, सही या गलत ?

Wheat Export In India: भारत ने गेहूं के निर्यात पर रोक लगा दी है।
00:04:33

Gyanvapi Masjid Survey: क्यों Gyanvapi मस्जिद मुद्दे पर खुलकर बोलने से बच रही राजनीतिक पार्टियां

Gyanvapi Masjid Survey: अयोध्या के राममंदिर आंदोलन के वक्त से आज के दौर की राजनीति बिल्कुल अलग है।
afp footer code starts here