होम राजनीति लीगल न्यूज Chandra Shekhar Azad Park में अवैध निर्माण हटाने की सरकार की रिपोर्ट...

Chandra Shekhar Azad Park में अवैध निर्माण हटाने की सरकार की रिपोर्ट असंतोषजनक : Allahabad High Court

Allahabad High Court ने प्रयागराज स्थित चंद्र शेखर आजाद पार्क (Chandra Shekhar Azad Park) में 1975 के बाद के अवैध निर्माण को हटाने की सरकार की रिपोर्ट को संतोषजनक नहीं माना है। याचिकाकर्ता ने भी कहा अभी भी बहुत से अवैध निर्माण पार्क के अंदर मौजूद हैं।

इस पर कोर्ट ने राज्य सरकार से इलाहाबाद लेडीज क्लब बनाम जितेंद्र नाथ सिंह (Jitendra Nath Singh) केस में सुप्रीम कोर्ट के फैसले के पालन पर हलफनामा मांगा है और पूछा है कि क्या 1975 के बाद के पार्क के भीतर के सभी अवैध निर्माण हटाये जा चुके हैं। कोर्ट ने अनुपालन रिपोर्ट की प्रति याचिकाकर्ता को आपत्ति देने के लिए सौंपने का भी निर्देश दिया है।याचिका की अगली सुनवाई 21अक्टूबर को होगी। यह आदेश कार्यवाहक मुख्य न्यायाधीश एम एन भंडारी तथा न्यायमूर्ति पीयूष अग्रवाल की खंडपीठ ने जितेन्द्र सिंह बिसेन की जनहित याचिका पर दिया है।

याचिकाकर्ता का आरोप अतिक्रमण नहीं हटाया जा रहा है

याचिकाकर्ता का कहना है कि सुप्रीम कोर्ट के अरुण कुमार केस में पार्क से अतिक्रमण हटाने के आदेश का पालन नहीं किया जा रहा है। जिसपर कोर्ट ने पार्क अधीक्षक,जिला प्रशासन,पी डी ए वी नगर निगम प्रयागराज से जानकारी मांगी थी कि पार्क कानून बनने की तिथि से पहले पार्क में कितने निर्माण थे और उसके बाद कितने निर्माण कार्य किये गए हैं।

रिकार्ड के अभाव में कोई विभाग इसकी जानकारी नहीं दे सका तो कोर्ट ने कमिश्नर सहित सभी संबंधित विभागों के अधिकारियों को तलब किया। जिसके बाद कुछ निर्माण हटाये गये और कहा गया कि सारे अवैध निर्माण हटा दिये गये हैं। याचिकाकर्ता  ने इसपर आपत्ति की और कहा कि सभी अवैध निर्माण नहीं हटाये गये हैं। अब कोर्ट ने हलफनामा मांगा है कि क्या वास्तव में सभी अवैध निर्माण हटा दिये गये है। कोर्ट के इस आदेश ने सरकार को उलझा कर रख दिया है। जो सरकार के गले की फांस बन सकता है।

यह भी पढ़ें :

Allahabad High Court ने पुलिस भर्ती में चयनित CISF कॉन्स्टेबल का 6 हफ्ते में मेडिकल टेस्ट करने का दिया निर्देश

Allahabad High Court ने साइन सिटी फर्जीवाड़े के आरोपी नसीम ब्रदर्स सहित सभी आरोपियों को गिरफ्तार करने का दिया आदेश

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Most Popular

IPL 2022: Sunrisers Hyderabad ने मुंबई इंडियंस को हराकर बदला प्लेऑफ का गणित, क्या इस जीत से प्लेऑफ में पहुंच पाएगी हैदराबाद

IPL 2022 के 65वें मुकाबले में Sunrisers Hyderabad ने मुंबई इंडियंस को हराकर प्लेऑफ की उम्मीदों को कायम रखा है। हैदराबाद ने इस जीत के साथ प्लेऑफ का पूरा समीकरण ही बदल गया।

Bangladesh ने पहले टेस्ट में बनाई मजबूत पकड़, तमीम इकबाल, मुशफिकुर रहीम और लिटन दास के नाम रहा दिन

Bangladesh और Sri Lanka के बीच खेले जा रहे पहले टेस्ट के तीसरे दिन का खेल खत्म होने के बाद बांग्लादेश ने अपनी स्थिति मजबूत कर ली है। मैच का तीसरा दिन तमीम इकबाल, मुशफिकुर रहीम और लिटन दास के नाम रहा।

APN News Live Updates: ज्ञानवापी मस्जिद मामले में कोर्ट कमिश्नर अजय मिश्रा को हटाया गया, कोर्ट ने रिपोर्ट पेश करने के लिए 2 दिन...

APN News Live Updates: ज्ञानवापी मस्जिद मामले में जानकारी मुताबिक सुनवाई पूरी है गई है। कोर्ट कमिश्नर ने सर्वे रिपोर्ट दायर करने के लिए दो दिन का समय मांगा है कोर्ट इसपर 4 बजे कोर्ट फैसला सुनाएगा।

Bharuch Fire in Chemical Factory: गुजरात के भरूच में केमिकल फैक्ट्री में लगी भयंकर आग, 25 से अधिक कर्मचारी घायल

Bharuch Fire in Chemical Factory: गुजरात के भरूच के दहेज इंडस्ट्रियल एरिया में एक रसायन फैक्ट्री में भयंकर आग लग गयी है।

एपीएन विशेष

00:03:24

Gyanvapi Masjid Survey: ज्ञानवापी सर्वे मामले पर बनारस कोर्ट ने कही अहम बातें

Gyanvapi Masjid Survey: ज्ञानवापी मस्जिद सर्वे मामले में बनारस कोर्ट ने आदेश देते हुए कहा है कि जिस जगह शिवलिंग मिला है, उस स्थान को सील किया जाए।
00:19:52

CM Ashok Gehlot: राजस्थान के CM अशोक गहलोत ने कहा- बीजेपी ध्रुवीकरण की राजनीति करके वोट लेती है

CM Ashok Gehlot: कांग्रेस के उदयपुर चिंतन बैठक के बाद राजस्थान के सीएम अशोक गहलोत ने भाजपा और आरएसएस पर बड़ा आरोप लगाया है।
00:05:08

PM Modi In Nepal: लुम्बिनी में जनता को पीएम मोदी ने किया संबोधित

PM Modi In Nepal: बुद्ध पूर्णिमा के पावन अवसर पर देश के प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी भगवान बुद्ध के जन्मस्थल लुम्बिनी पहुंचे हुए हैं।
00:02:45

Rampur: कद काठी मे छोटे होने के बावजूद शादी के बंधन में बंधे युवक और युवती

Rampur: शादी ब्याह भी किस्मत से होते हैं और जिस जीवनसाथी की तलाश वयस्क होने के बाद युवक और युवती की होती है, वह कभी-कभी दूर नहीं पास ही में मिल जाता है और कभी कभी सात समंदर पार भी मिलते हैं।
afp footer code starts here