होम मनोरंजन Tryst With Destiny सीरीज देखने के बाद आप खुद से पूछेंगे इंसान...

Tryst With Destiny सीरीज देखने के बाद आप खुद से पूछेंगे इंसान कौन है? दलितों के साथ कैसा हो रहा है व्यवहार?

Tryst With Destiny 4 एपिसोड की यह वेब सीरीज (Web Series) सोशल मीडिया पर धूम मचा रही है। हर एपिसोड में 40 मिनट की कहानी बयां करते हुए नियति से साक्षात्कार नाम की सीरीज साफ- साफ शब्दों में बता रही है कि भारत अभी पूरी तरह से आजाद नहीं हुआ है। यहां पर लोगों को जातिवाद के नाम पर गुलाम बनाया गया है, रंगों, पर्यावरण पर भेदभाव किया जा रहा है।

इस सीरीज में Suhasini, Vineet Kumar Singh, Jaideep Ahlawat, Ashish Vidyarthi जैसे उम्दा एक्टर को कास्ट किया गया है। कलाकारों की एक्टिंग ने समाज में चल रहे घटनाक्रम को स्क्रीन पर जिंदा कर दिया है। इस कहानी को पेपर और कलम के सहारे स्क्रीन पर उतारा गया है लेकिन देखने के बाद लगता है कि यह सब कुछ सामने ही हो रहा है।

फिल्म कहें या फिर सीरीज इसके डायरेक्टर हैं Prashant Nair। प्रशांत ने समाज की उन तस्वीरों को जमा कर जनता के सामने पेश किया है जो शहरों की चका चौंध रोशन में भूल गए हैं कि एक समाज ऐसा भी है।

सीरीज को 5 नवंबर को Sony Liv पर लॉन्च किय गया था। अब दर्शक इसे लेकर शानदार प्रतिक्रिया पेश कर रहे हैं। सीरीज पूरे चार एपिसोड की है। हर एपिसोड को आप 40 मिनट में निपटा सकते हैं।

यहां पर देखें एपिसोड के नाम

Fair and Fine

The River

One BHK

A Beast Within

सीरीज की कहानी

पहले एपिसोड में कहानी बयां करती है कि इंसानों की दुनिया में सबसे अधिक अहमित रंगों को दिया जाता है। मतलब आप कितने गरीब हैं यह आपके शरीर का रंग बताता है।

इसी तरह आगे की कहानी बयां करती है कि गांव में दलितों को किस तरह से प्रताड़ित किया जाता है और दलित महिलाओं का क्या हाल है। आगे पता चलता है कि एक पुलिसकर्मी की सैलरी कम होने के क्या परिणाम होतो हैं। वह अपनी इच्छा को पूरा करने के लिए क्या कुछ करता है।

जब आप अगले पड़ाव पर जाएंगे तो सोचने पर मजबूर हो जाएंगे इंसान कौन है और जानवार कौन है। आप खुद से सवाल करेंगे कि इंसानों को पृथ्वी पर सबसे बुद्धिमान प्राणी क्यों कहा है..क्या वह इस लायक हैं?

सीरीज का नाम और पंडित जवाहरलाल नेहरू का भाषण

देश के पहले प्रधानमंत्री पंडित जवाहरलाल नेहरू ने 14-15 अगस्त की मध्यरात्री को लाल किले से नियति से साक्षात्कार भाषण दिया था। फिल्म का नाम उनके भाषण से सीधे तौर पर जुड़ा हुआ है।

यह भी पढ़ें:

Puneeth Rajkumar के नाम पर हाथी के बच्चे का रखा गया नाम, 2 साल है उम्र

Bigg Boss 15: Umar Riaz और Pratik Sehajpal आपस में भिड़े, सिद्धांत चतुर्वेदी और शरवरी वाघ भी रह गए हैरान

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Most Popular

Andhra Pradesh Riots: आंध्र प्रदेश में जिले का नाम बदलने से पूरे क्षेत्र में तनाव, प्रदर्शनकारियों ने मंत्री के घर और गाड़ियों को किया...

Andhra Pradesh Riots: आंध्र प्रदेश के कोनसीमा जिले का नाम बदलने को लेकर अमलापुरम में तनाव भरा माहौल बना हुआ है।

Hansal Mehta ने 54 की उम्र में सफीना हुसैन से की शादी, यहां जानें उनकी 17 साल की लव स्टोरी के बारे में

फिल्म निर्माता हंसल मेहता (Hansal Mehta) ने 54 साल के उम्र में 17 सालों से पार्टनर रहीं सफीना हुसैन (Safeena Husain) के साथ शादी के बंधन में बंध गए हैं

Texas School Shooting: 19 बच्चों और शिक्षकों की हत्या करने से पहले हमलावर ने अपनी दादी पर की फायरिंग, पुलिस मुठभेड़ में ढेर

Texas School Shooting: अमेरिका के टेक्सास के एक प्राथमिक विद्यालय में एक 18 वर्षीय ने 19 छात्रों और दो शिक्षकों की गोली मारकर हत्या कर दी। उसने अपनी दादी को भी मार डाला।

UP News:प्रयागराज में प्रेमी जोड़े को मारी गोली, प्रेमी की मौत, प्रेमिका जिंदगी और मौत से जूझ रही

प्रेमिका को घायल अवस्था में स्वरूप रानी नेहरू अस्पताल में भर्ती कराया गया है।

एपीएन विशेष

West Bengal: पश्चिम बंगाल के बैरकपुर से BJP सांसद अर्जुन सिंह ने थामा TMC का दामन

West Bengal: पश्चिम बंगाल के बैरकपुर से बीजेपी सांसद अर्जुन सिंह ने फिर से टीएमसी का दामन थाम लिया है। तीन साल बाद अर्जुन सिंह ने घर वापसी की है।
00:22:22

Bihar Caste Census: जातीय जनगणना पर बिहार की सियासत में एक बार फिर मचा बवाल

Bihar Caste Census: जातीय जनगणना पर सियासत एक बार फिर गर्मा रही है और इसका केंद्र है बिहार।
00:02:28

Barabanki: आधुनिक सुलभ शौचालय का होगा निर्माण, डिजाइन है खास

Barabanki: बाराबंकी नगर पालिका परिषद के चेयरमैन पति रंजीत बहादुर श्रीवास्तव नगर में अपनी खुद के डिजाइन का सुलभ शौचालय बनवाने जा रहे हैं।
00:02:25

Uttarakhand: शिक्षा में नई पहल, किताबों में शामिल होंगे भगवद्गीता, वेद और रामायण

Uttarakhand: उत्तराखंड की शिक्षा पद्धति में अब आने वाले समय में बदलाव की कवायद की जा रही है।
afp footer code starts here